सावधान : चूहों से मुंबई में फैल रही खतरनाक बीमारी, ऐसे करें बचाव

 मुंबई में पिछले कुछ दिनों से जारी बारिश से जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। भारी बारिश के कारण शहर में जलभराव जैसी स्थिती पैदा हो गई है। वहीं मुंबई में एक खतरनाक बिमारी ने पैर पसारना शुरू कर दिया है। मलेरिया के अलावा लेप्टोस्पायरोसिस नाम की बीमारी लोगों में बढ़ती जा रही है जिसकी चपेट में आने से चार लोगों की मौत हो गई। विभाग ने चूहों के 17 बिलों में कीटनाशक दवा का छिड़काव किया है ताकि रोग को फैलने से बचाया जा सके।
PunjabKesari
24 घंटे में करती है असर
क्टर्स के अनुसार लेप्टोस्पायरोसिस एक जीवाणु रोग है, जो मनुष्यों और जानवरों को प्रभावित करता है। यह लेप्टोस्पिरा जीनस के बैक्टीरिया के कारण होता है। यह संक्रमित जानवरों के मूत्र के जरिये फैलता है, जो पानी या मिट्टी में रहते हुए कई सप्ताह से लेकर महीनों तक जीवित रह सकते हैं। यह बैक्टेरिया शरीर में एक बार दाखिल होने के बाद 24 घंटे के अंदर पूरे शरीर में फैल जाता है। हार्ट केयर फाउंडेशन (एचसीएफआई) के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल के अनुसार दूषित पानी पीने से भी संक्रमण हो सकता है। उपचार के बिना, लेप्टोस्पायरोसिस गुर्दे की क्षति, मेनिनजाइटिस (मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के चारों ओर सूजन), लीवर की विफलता, सांस लेने में परेशानी और यहां तक कि मौत का कारण भी बन सकता है।
PunjabKesari
क्या है लक्षण
लेप्टोस्पायरोसिस के कुछ लक्षणों में तेज बुखार, सिरदर्द, ठंड, मांसपेशियों में दर्द, उल्टी, पीलिया, लाल आंखें, पेट दर्द, दस्त आदि शामिल हैं। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि बीमारी का रोगी के इतिहास और शारीरिक जांच के आधार पर निदान किया जाता है। गंभीर लक्षणों वाले मरीजों को उचित चिकित्सा परीक्षण कराने को कहा जाता है। शुरुआती चरण में लेप्टोस्पायरोसिस का निदान करना मुश्किल होता है, क्योंकि लक्षण फ्लू और अन्य आम संक्रमणों जैसे ही प्रतीत होते हैं। लेप्टोस्पायरोसिस का इलाज चिकित्सक द्वारा निर्धारित विशिष्ट एंटीबायोटिक्स के साथ किया जा सकता है।
PunjabKesari

वैसे तो यह बीमारी गर्म इलाकों में होती है, लेकिन बारिश के कारण बैक्टेरिया तेजी से फैलते हैं। यह बीमारी अफ्रीका, साउथ ईस्ट एशिया, सेंट्रल और साउथ अमेरिका और कैरेबियन देशों में ज्यादा देखी गई है। डॉक्टर ने बताया कि बारिश के बाद बाढ़ के कारण लेप्टोस्पायरोसिस तेजी से बढ़ता है। ख़ासकर चूहों से क्योंकि चूहों के जरिये गंदगी खाने और बाकी जगहों पर पहुंचती है। इससे बचने के लिए अपने आस-पास सफाई का ख़ास ध्यान रखें और पानी भी साफ़ पिये।

Facebook Comments