क्यों होती हैं दवाई के पत्तों पर खाली जगह

जब आप बीमार पड़ते हैं तो दवाई खाने के लिए तुरंत अपना दिमाग दौड़ा लेते हैं,लेकिन दवाई के पत्तों को देखकर आपने कभी अपना दिमाग दौड़ाया है किआखिर इन पत्तों पर खाली जगह किस खुशी में छोड़ा जाता है? नहीं दौड़ाया? चलिए हम बताते हैं।
आपने देखा तो जरूर होगा कि दवाई के पत्तों को कुछ खाली स्पेस होते हैं। चलिए हम बताते हैं कि आखिर इन्हें बनाया ही क्यों जाता है? इसके पीछे कारण क्या है? इसके कई कारण हो सकते हैं। कई बार तो ऐसा भी होता है कि टैबलेट के पूरे पत्ते में सिर्फ एक ही गोली होती है। आप सोच रहे होंगे कि एक गोली को इतने बड़े पत्ते में लगाने की क्या जरूरत थी, जो बनाता है वो बुड़बक होगा,लेकिन आप गलत सोच रहे हैं। हर किसी चीज को बनाने के पीछे एक उचित कारण होता है।

कुछ चीजों को हम रोज देखने पर भी नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन इनके पीछे बहुत रोचक बातें छिपी रहती हैं। आज लगभग हर इन्सान को किसी न किसी परेशानी के लिए दवा खाना पड़ता है। पर बहुत कम लोगों ने ही ये सोचा होगा कि इन दवाईयों के पत्तों पर स्पेस क्यों होता है। दरअसल, दवाई के पत्ते के पीछे प्रिंट की जाने वाली जानकारियां (तारीख, इसके कम्पाउंड्स, एक्सपायरी आदि) को छापने के लिए जगह की जरूरत होती है। इसके लिए खाली स्पेस बनाए जाते हैं।

इसके आलावा दवाईयों को नुकसान से बचाने के लिए और आप सही डोज ले सकें इसलिए ये स्पेस बनाए जाते हैं। अगर आपके डॉक्टर ने आपको हफ्ते में एक ही गोली खाने को बोला है, और पत्ते में एक ही टैबलेट है तो आपको दवाई के अलग-अलग पत्तों को खरीदना पड़ेगा। इससे आपके डोज सही रहेंगे क्योंकि दवाईयों और पत्तियों की गिनती आसान रहेगी।

इनकी मदद से दवाईयां आपस में नहीं मिलतीं और केमिकल रिएक्शन होने का खतरा भी नहीं होता। अगर दवाईयों में केमिकल रिएक्शन हो जाए तो बेकार हो जाती हैं। फिर आप उस पत्ते से कितनी भी दवाईयां खाएं कोई असर नहीं होगा।

Facebook Comments