इस तरह के डॉग्स को धूप में रखना हानिकारक….

डॉग की हेल्थ का ध्यान रखना हर एक मालिक के लिए बड़ी जिम्‍मेदारी है और जब भी उसे बाहर ले जाएं तो उसके लिए पानी आदि भी साथ में ले ही जाएं। इससे पहले आपको यह जानना आवश्‍यक है कि आपके कुत्‍ते की नस्‍ल जो हैं, क्‍या उस नस्‍ल को भी सूर्य की रोशनी में दिक्‍कत होती है।

आइए जानते हैं किस प्रकार के 5 कुत्‍तों को होती है धूप में दिक्‍कत सफेद कुत्‍ते: अगर आपके पास सफेद कुत्‍ता है तो उसे धूप में ले जाने से बचें। धूप में रखने से इसे काफी दिक्‍कत होती है जबकि ब्‍लैक या अन्‍य कलर के कुत्‍तों को धूप में दिक्‍कत कम होती है। आप चाहें तो बाहर ले जाते समय इसे पैट सनस्‍क्रीन लगा दें।

शॉर्ट कोट्स के साथ कुत्‍ते: जो कुत्‍ते विदेशी नस्‍ल के होते हैं उन्‍हे गर्मी में ज्‍यादा दिक्‍कत होती है। छोटे-छोटे पैरों वाले कुत्‍तों को काफी दिक्‍कत होती है। इसके अलावा, कोट्स पहनाएं जाने वाले कुत्‍तों को भी धूप में समस्‍या होती है। इससे उन्‍हे लाल चकत्‍ते हो जाते हैं। बालरहित कुत्‍ते: जिन कुत्‍तों के शरीर पर बाल नहीं होते हैं उन्‍हे धूप से ज्‍यादा समस्‍या हो सकती है। इस तरह के कुत्‍तों के शरीर पराबैंगनी किरणों का प्रभाव ज्‍यादा पड़ता है। छोटी नाक वाले कुत्‍ते: जिन कुत्‍तों की नाक नन्‍ही सी और पिंक कलर की होती है।

 

उनके शरीर पर धूप से चकत्‍ते पड़ने का खतरा रहता है। इसके लिए उनके शरीर पर कोट डालना जरूरी हो जाता है। सनबार्थस: जिन कुत्‍तों को धूप से कोई दिक्‍कत नहीं होती है वे धूप में सीधे लेटकर उल्‍टे होकर खेलते हैं। इस तरह आप सर्द दिनों में उनकी प्रवृत्ति को देख सकते हैं कि इसे धूप से दिक्‍कत है या नहीं। अगर उसे कोई भी समस्‍या है तो उसे धूप से दूर रखें। पशु चिकित्‍सक डा. एन होईहॉस भी कहते हैं कि कुत्‍तों के शरीर को इंसानों से कम धूप झेलने की आदत होती है। वह ज्‍यादा गर्मी या धूप बर्दाश्‍त नहीं कर पाते हैं।

Facebook Comments