इस पौधे की पत्तियां और बीज कभी भी शरीर में खून की कमीं नहीं होने देते, एक बार जरूर पढ़ें

कई ऐसे पौधे हैं जो हमारे जीवन के लिए बहुत ही महत्त्व पूर्ण होते हैं ,किन्तु अज्ञानता के कारण हम उनका उपयोग सही से नहीं कर पाते। कई ऐसी फसलें हैं जिनका हम उत्पादन करते हैं किन्तु उनके उपयोग के बारे में नहीं जानते। आज मैं आपको चने के बारे में बताऊंगा जिसके सेवन से कभी बी शरीर में खून की कमीं नहीं होगो।

इस पौधे की पत्तियां और बीज कभी भी शरीर में खून की कमीं नहीं होने देते, एक बार जरूर पढ़ें

कैसे करें चने की पत्तियों और बीज का सेवन

चने का जब पौधा 45 दिन का हो जाता है तभी से हम इसका उपयोग करना शुरू कर देते हैं। इसकी ऊपर की कोपलें खाने से ये लीवर और तिल्ली को साफ़ कर खून बढाता है। जब इसका पौधा थोड़ा और बड़ा हो जाता है तो इसको सरसों के साग के साथ सब्जी के रूप में खाने पर या वात को नाश करता है और खून में वृद्धि करता है। जब यह पकने तो इसके फल को तोड़कर भून कर खाने से पौरुष शक्ति और खून की शक्ति बढ़ जाती है।

काले चने को रात भर भिगोकर उसके पानी को दिन में तीन बार सेवन करने से खून की शरीर में वृद्धि होती है। चने का प्रयोग किसी भी रूप में करने पर यह खून में वृद्धि के साथ अन्य कई समस्यायों को खत्म कर देता है। ध्यान रखें बाजार के भुने हुए चनो का प्रयोग न करें। ये सब लाभ सिर्फ काले अर्थात देशी चने में ही मिलते हैं। जो व्यक्ति सारी उम्र चनो का प्रयोग करेगा उसको कभी भी खून की कमीं नहीं होगी।

Facebook Comments