एक बार फिर बैंको में हुआ महाघोटाला,14 बैंकों को एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की चपत….

जानकारी के मुताबिक कनिष्क गोल्ड के मालिक भूपेश जैन और उनकी पत्नी नीता जैन ने एसबीआई सहित 13 अन्य बैंकों से करीब 842.15 करोड़ रुपए का लोन लिया था। एसबीआई ने सबसे ज्यादा लोन कनिष्क गोल्ड को दिया था। फिलहाल भूपेश और उसकी पत्नी फरार चल रहे हैं। बैंकों का मानना है कि दोनों इस वक्त मॉरिशस में रहते है। अब ब्याज मिलाकर के यह 1000 करोड़ रुपए से अधिक का हो चुका है। अब इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गई है। हालांकि अभी तक किसी तरह की कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई है।

पंजाब नेशनल बैंक में नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की ओर से किए गए 14,600 करोड़ रुपए के महाघोटाले का शोर अभी थमा भी नहीं था कि एक और घोटाला  सामने आ गया। इस बार घोटाले का मुख्य शिकार भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) बना है। चेन्नई स्थित ज्वेलरी कंपनी कनिष्क गोल्ड के मालिक ने एक साथ 14 बैंकों को एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की चपत लगाई और बाद में विदेश फरार हो गया है।

बैंकों ने 5 अप्रैल 2017 को कंपनी के खिलाफ ऑडिट शुरू किया था। प्रोमोटर्स से इस दौरान संपर्क करने की कोशिश की गई। लेकिन, उनसे संपर्क नहीं हो सका। 25 मई 2017 को बैंक कनिष्क के कॉरपोरेट ऑफिस में पहुंचे, लेकिन ऑफिस, फैक्ट्री और शोरूम में कामकाज पूरी तरह बंद था। उसी दिन कंपनी प्रोमोटर भूपेश कुमार जैन ने बैंकर्स को चिट्ठी लिखकर यह बात कबूल की थी कि उसने रिकॉर्ड के साथ छेड़छाड़ और स्टॉक्स को हटाया है। वहीं, कंपनी के दूसरे शोरूम भी बंद हो चुके है।

Facebook Comments