अटल जी का हुआ निधन, नरेंद्र मोदी ने कहा ‘एक युग का अंत है’

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का आज दिनांक 16 अगस्त 2018 को निधन हो गया. अटल बिहारी वाजपेयी लम्बे समय से बीमार थे. उनकी उम्र 93 वर्ष थी. बात दे अटल बिहारी वाजपेयी भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) के दिग्गज नेता थे. अखिल भारतीय आयुर्वेदिक संस्थान (एम्स) ने यह जानकारी जारी की है. जानकारी के मुताबिक उनका निधन सांयकाल 5 बजकर 5 मिनट में हुआ.

एम्स अस्पताल ने बताया कि अटल जी पिछले नौ सप्ताह से अस्पताल में भर्ती थे. पिछले 36 घंटो में उनकी हालत बहुत ज्यादा ख़राब ख़राब थी, उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम में रखा गया था. उनके निधन पर केंद्र सरकार ने सात दिनों दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया है. उनके पार्थिव शरीर को कल शुक्रवार को प्रातः काल सुबह 9 बजे बीजेपी मुख्यालय में रखा जायेगा.

जीवनी

अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म 25 दिसंबर 1924 को उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के बटेश्वर ग्राम में हुआ था. अटल जी के पिता का नाम कृष्ण बिहारी वाजपेयी और माता का नाम कृष्णा वाजपेयी था. उनके पिता मध्यप्रदेश में शिक्षक थे.उनका राजनितिक लगाव यू.पी. से था. प्रधानमंत्री सड़क योजना अटल जी की ही देन है. इस योजना के तहत भारत में पक्के सड़क का निर्माण हुआ.

नरेंद्र मोदी ने कहा ‘एक युग का अंत है’

उनका इलाज एम्स के प्रमुख डॉक्टर्स में से एक डॉ. रणदीप गुलेरिया कि निगरानी में हो रहा था. देश के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ऑफिसियल टिव्टर अकाउंट पर ट्वीट किया कि उन्होंने अपना जीवन का प्रत्येक पल उन्होंने राष्ट्र को समर्पित कर दिया था. उनका निधन, ‘एक युग का अंत है’

Facebook Comments