छत्तीसगढ़ का एक विचित्र पर्यटक स्थल, जिसे एक बार जरूर जाना चाहिए देखने

वैसे तो छत्तीसगढ़ अपने प्राकृतिक संशाधनों के लिए ही मशहूर है. और यहां पर मुख्य रूप से धान की खेती होती है तभी तो इसे धान का कटोरा भी कहा जाता है. छत्तीसगढ़ अब सभी क्षेत्रोँ में विकाश कर रहा है. यहा तक की तो पर्यटकों को भी अब काफी आकर्शित कर रहा.

तातापानी छत्तीसगढ़ के बलराम जिले में आता है जो अंबिकापुर से 80 किलोमीटर की दुरी पर है. यह जगह गर्म पानी के स्रोत के लिए प्रशिद्ध हो रहा. ताता का मतलब भी गर्म होता है यहां के स्थानीय बोली में. अब तो सरकार ने भी इसको पर्यटक स्थल घोसित कर दिया है. प्रत्येक वर्ष यह मार्च माह में मेला लगता है. जिसकी रौनक देखते ही बनती है. इस गर्म पानी के उपयोग करने पर यह भी माना जाता है कि कई बीमारियां भी टिक हो जाती है जैसे चर्म रोग.

Facebook Comments