मिशन 2019 : शाह ने पार्टी के मोर्चों को सौंपी अहम जिम्मेवारी

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को पार्टी महासचिवों और विभिन्न मोर्चो के अध्यक्षों के साथ चुनावी रणनीति को लेकर विचार-विमर्श किया। महासचिवों से उनसे जुड़े राज्यों की जानकारी ली गई। साथ ही मोर्चों से कहा गया है कि वे हर राज्य में अपने संगठनों को चुनावी तैयारियों का काम सौंपे। भाजपा मुख्यालय में महासचिवों और मोर्चा अध्यक्षों के साथ बैठक हुई। सूत्रों के अनुसार महासचिवों से राज्यों की राजनीतिक और गठबंधन की स्थिति, तैयारी, सरकार व संगठन के कामों की जानकारी व भावी रणनीति पर चर्चा हुई। महासचिवों के पास रोटेशन के आधार पर विभिन्न राज्यों का दायित्व है औ्रर इस तरह सभी महासचिव हर राज्य से जुड़े हुए हैं। लोकसभा की तैयारी के लिए सभी मोर्चों से कहा गया है कि वे क्षेत्रों के लिए योजना बनाकर उसे राज्य, जिला स्तर और हर लोकसभा क्षेत्र में लागू करें।

गोष्ठी और सम्मेलनों से लोगों को जोड़ेंगे
भाजपा के युवा, महिला, पिछड़ा वर्ग, अनुसूचति जाति, अनुसूचित जनजाति व अल्पसंख्यक मोर्चा अपने अपने क्षेत्रों में जमीनी संपर्क के साथ गोष्ठियों, सम्मेलनों आदि के जरिए लोगों को जोड़ेंगे। पार्टी उन राज्यों के लिए विशेष रणनीति बना रही है जहां विपक्षी दलों से गठबंधन संभव है। बिहार-यूपी में ऐसी संभावना को देखते हुए वहां पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति व अल्पसंख्यक मोर्चा को विशेष दायित्व दिए गए हैं। मोर्चा के नेता व कार्यकर्ता इन वर्गों तक पहुंच कर ये बताएंगे कि जो दल खुद को एक जाति विशेष का होने का दावा करते हैं उनसे ज्यादा उस जाति के सांसद-विधायक पार्टी में हैं।

अमित शाह आज पुणे जाएंगे  
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह रविवार को महाराष्ट्र के एक दिवसीय यात्रा पर पुणे जा रहे हैं, जहां वे कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे। इस दौरान वह ‘संपर्क फॉर समर्थन’ अभियान के तहत प्रख्यात लेखक बाबा साहब पुरंदरे से मुलाकात करेंगे। भाजपा के मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी ने एक बयान में कहा, शाह रविवार दोपहर पुणे पहुंचेंगे।

Facebook Comments