अगर यहां नहीं खाएं हैं गुलाब जामुन, तो क्या खाएं हैं…

जी हां, हम मिठाई की दुकान की बात कर रहे हैं. पिछले 30 सालों से इसकी मिठास लोगों के जेहन में बनी है. गोपाल प्रासद की यह दुकान लोगों के बीच अपने मीठे, गोल और रसीले गुलाब जामुन के लिए फेमस है. इनके गुलाब जामुन को पटनाइट्स इतना पसंद करते हैं कि सुबह से लेकर रात तक दुकान पर भीड़ लगी रहती है.

पहले 2 पैसे में मिलता था एक, अब 7 रुपये में

पटना के बाकरगंज स्थित इलेक्ट्रॉनिक मार्केट में अगर किसी से गुलाब जामुन की दुकान के बारे में पूछा जाए तो वह बेहिचक इसी दुकान का पता आपको बता देगा. दुकान भले ही 30 साल पुरानी हो गई, लेकिन स्वाद आज भी भी वैसा ही है. हां, कीमत में महंगाई की उछाल जरूर दिख जाएगी. दुकानदार की मानें तो पहले इस दुकान में गुलाब जामुन दो पैसे में एक पीस मिलता था. अब वहीं गुलाब जामुन 7 रुपए में मिलने लगा है.

इस मिठास का दीवाना है पूरा शहर

अगर दुकान की बात करे तो आज भी यह दुकान वैसी ही है, जैसी पहले थी. कोई बदलाव नहीं. उस जमाने में भी कोई तड़क-भड़क नहीं, और आज भी कोई दिखावा नहीं. प्राचीन शैली में संचालित मिठाई की छोटी-सी इस दुकान की पहचान सिर्फ बाकरगंज, अशोक राजपथ या एनआईटी तक ही नहीं है. बल्कि, अब शहर के सभी इलाकों के लोग यहां गरम-गरम गुलाब जामुन विथ कर्ड एंड क्रीम के साथ खाने आते हैं.

शुद्ध नहीं, यहां विशुद्ध की बात करें जनाब

दुकान को चलाने वाले गोपाल प्रसाद ने लाइव सिटीज को बताया कि उनके पिताजी रामसेवक प्रसाद ने 30 बरस पूर्व यह दुकान शुरू की थी. उस समय वे स्वयं अपने हाथ से ही गुलाब जामुन बनाते थे. यहां के गुलाब जामुन की विशेषता के बारे में उनका कहना है कि ऊपर वाले की मेहर है. वे ये भी कहते हैं कि हमारा पूरा ध्यान प्रत्येक चीज की शुद्धता पर रहता है. क्वालिटी से कोई समझौता नहीं. वे बताते हैं कि गुलाब जामुन बनाने की तकनीक सभी की कमोबेश एक-जैसी ही होती है, लेकिन हर चीज की शुद्धता और बनाने की तकनीक यहां के गुलाब जामुन को सबसे अलग बनाती है.

जिह्वा में घोल देता रस, सोंधापन भी गजब का 

सारी कला इस बात पर निर्भर करती है कि गुलाब जामुन बनाने में प्रयुक्त दूध और उससे बना मावा कैसा है. फिर इस मावे को एक निश्चित तापमान पर इस तरह तला जाता है कि यह पूरी तरह से स्पंजी बन जाए. साथ ही शक्कर की चाशनी में डुबोने पर वह इसके प्रत्येक हिस्से तक पहुंच जाए. ऐसा गुलाब जामुन चाहे किसी हिस्से से खाया जाए स्वाद एक जैसा रहेगा. यही हमारे प्रोडक्ट की सबसे बड़ी खासियत है. यह गुलाब जामुन आपके जिह्वा पर रस घोल देगा. खोया अधिक रहने के कारण सोंधापन भी गजब का.

Facebook Comments