5वीं क्लास की बच्ची ने लगा लिया टीका तो मदरसे में हुआ बवाल…

केरल के एक मदरसे ने बच्ची को इसलिए बाहर निकाल दिया, क्योंकि उसने माथे पर चंदन की बिंदी लगाई थी। बच्ची के पिता ने फेसबुक दर्द बयां किया है। उनका आरोप है कि मदरसे में चंदन का टीका लगाकर जाने की वजह से उनकी बेटी को निष्कासित कर दिया गया। पांचवी में पढ़ने वाली बच्ची के पिता का कहना है कि एक छोटी फिल्म में अभिनय करने की वजह से उसने माथे पर चंदन का टीका लगाया था।

पांचवी कक्षा में पढ़ने वाली इस बच्ची के पिता का कहना है कि एक शॉर्ट फिल्म में ऐक्टिंग करने के लिए उसने माथे पर चंदन लगाया था। इस पूरी घटना को बच्ची के पिता ने अपने फेसबुक अकाउंट से शेयर किया है।

उमर मलयिल नामक शख्स ने फेसबुक पर लिखा कि उनकी 10 साल की बेटी हिना पढ़ाई के अलावा खेलकूद और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भी काफी आगे रहती है।
उन्होंने लिखा, ‘एक शॉर्ट फिल्म में ऐक्टिंग के लिए मेरी बेटी ने माथे पर चंदन की बिंदी लगाई थी। इस वजह से उसे मदरसे से बाहर निकाल दिया गया।’ मलयालम भाषा में लिखी गई इस पोस्ट को अब तक लगभग 8 हजार लोगों ने लाइक किया है और लगभग 2800 लोग इसे शेयर कर चुके हैं।

उमर ने लिखा है कि उनकी बेटी स्कूल और जिला लेवल पर कई इनाम भी जीत चुकी है। उमर की फेसबुक पोस्ट वायरल होने के बाद कुछ लोग मदरसे के इस कदम की आलोचना कर रहे हैं तो कुछ लोगों का कहना है कि मदरसे ने सही फैसला लिया क्योंकि चंदन का टीका इस्लाम और शरियत के खिलाफ है।
Facebook Comments