मुफ्त चावल वितरण का फायदा उठाने के लिए स्वछता की शर्त रखी- किरण बेदी

पुड्डुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी ने गंदगी फैलाने वालों के खिलाफ कड़ा कदम उठाने का फैसला किया है. बेदी ने गावों में मुफ्त चावल वितरण का फायदा उठाने के लिए स्वछता की शर्त रखी है. उन्होंने साफ़ किया है कि यदि गांवों में खुले में शौच किया गया या कचरा फेंका तो उस क्षेत्र में मुफ्त में चावल वितरण नहीं किया जाएगा.

उपराज्यपाल ने एक बयान कहा कि, ‘तब तक मुफ्त में चावल का वितरण का कार्य रोक दिया जाए और उसे सुरक्षित रखा जाए. चावल को उन गांवों के लोगों को वितरित किया जाए जिसे स्वच्छता का प्रमाण पत्र मिला हो. गांवों के स्वच्छता प्रमाणन की दो बार जांच कराई जाए. सभी विधानसभा क्षेत्रों को चार सप्ताह का समय दिया जा रहा है जिससे वे अपने क्षेत्रों में सफाई करा सकें. यह समय सीमा 31 मई को खत्म हो जाएगी.’

उन्होंने कहा कि, ‘कहा कि जो गांव खुले में शौच से मुक्त हो गए हैं और वहां खुले में कचरा और प्लास्टिक नहीं फेंका जा रहा है, उन क्षेत्रों में स्थानीय विधायक और आपूर्ति विभाग के आयुक्त के प्रमाण पत्र के बाद ही मुफ्त में चावल का वितरण किया जाएगा’. जानकारी के मुताबिक ये नया आदेश जून माह से लागू होगा.

 

Facebook Comments