Friendship Day पर जानिए क्यों ऑनलाइन फ्रेंड से दूरी रखना है जरुरी…

दोस्त सबसे खास होते हैं और आज की तारीख में दोस्तों की संख्या में इजाफा हो चुका है। हम बात कर रहे है ऑनलाइन फ्रैंड्स की जोकि संख्या नें तेजी बढ़ चुके हैं। आज के डिजिटल जमाने में वर्चुअल वर्ल्ड में लोग अपना ज्यादा से ज्यादा समय बिता रहें हैं। सोशल साइट्स से लेकर डेटिंग साइट्स तक लोगों को एक डिजीटल स्पेस दे चुकी हैं जहां वो जमकर दोस्त बना रहे हैं। ये एक ऐसा स्पेस है जहां दोस्त हर समय मौजूद है भले ही वो फिजिकली सामने हो या नहीं।

Navodayatimes

ऑनलाइन फ्रेंडशिप ने लोगों का अकेलापन तो दूर कर दिया लेकिन इसके साथ कई सारे खतरे भी लेकर आया है। फ्रेंडशिप डे पर हम आपको आज ऑनलाइन फ्रेंडशिप के चक्कर में लापरवाही के चलते होने वाले नुकसानों और इससे जुड़े खतरों के बारे में आपको बताएंगे….

लंबी बात से अवसाद का कारण

बहुत लंबे समय तक किसी के साथ बात करते रहने के बाद लोगों को लत लग जाती है। ऐसे में अगर ज्यादा वक्त तक बात ना हो या फिर फ्रेंड ऑनलाइन ना आए तो इससे कई बार अवसाद हो जाता है जोकि घातक हो सकता है।

खो देते हैं असली दोस्त

ज्यादा समय वर्चुअल लाइफ को देने से अक्सर आप सोशल लाइफ खो देते हैं। आपकी जिंदगी वास्तविकता से दूर वर्चुअल स्पेस तक सिमट कर रह जाती है। ऐसे में कही ना कही ये आपके विकास में बाधक हो सकता है।

Navodayatimes

देती है शारीरिक थकान

इसके अलावा लंबे समय तक सोशल मीडिया का इस्तेमाल, घंटो ऑनलाइन रहने से शारीरिक तौर पर भी थकान हो जाती है। लंबे समय तक एक जगह पर बैठना भी कई समस्याओं को जन्म देता है।

फ्रॉड और ढगी का हो सकते हैं शिकार

इंटरनेट पर फ्रॉड आम हैं और अगर इसतरह के केसों पर नजर डालें तो दोस्ती की वजह सामने आती है। अक्सर ऑनलाइन दोस्ती करके आम अपनी निजी जानकारी साझा कर लेते हैं। लेकिन कई बार दूसरे तरफ से आने वाली जानकारी सही नहीं होती है। ऐसे में अक्सर लोग धोखाधड़ी का शिकार होते हैं। ऐसे दोस्तों को आपको एक सीमा तक ही रिश्ते रखना चाहिए।

Facebook Comments