मोबाइल नंबर नहीं देने पर नाबालिग दलित लड़की को जिंदा जलाने की कोशिश….

आजमगढ़ में दबंग ने घर में घुसकर दलित नाबालिग को आग के हवाले कर दिया। परिजनों के चीखने पर आसपास के लोग दौड़े और आरोपी युवक को पकड़ लिया।

लोगों ने आरोपी युवक की जमकर पिटाई कर दी। आग से झुलसी नाबालिग को आनन-फानन में सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

यह मामला निजामाबाद थाना क्षेत्र के फरीहा गांव का है। परिजनों ने बताया कि आरोपी युवक लंबे समय से उसकी बेटी को परेशान कर रहा था। वह बार-बार फोन नंबर के लिए दबाव बना रहा था। घटना वाले दिन वह उसके घर में घुस गया और नंबर लेने के लिए उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा। नाबालिग ने जब छेड़छाड़ का विरोध किया तो उसने तेल छिड़ककर उसे आग के हवाले कर दिया।

लड़की आग की लपटों से घि‍री हुई घर से बाहर निकली। परिजनों के चीखने पर आसपास के लोग दौड़े और वहां से भागने की कोशिश कर रहे युवक को दबोच लिया और उसकी पिटाई कर दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों को अस्पताल में भर्ती करवाया। मामला दो अलग-अलग समुदायों से जुड़े होने की वजह से गांव और आसपास के क्षेत्र में तनाव का माहौल है। तनाव के मद्देनजर गांव में भारी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। पकड़ा गया आरोपी भी उसी गांव का  रहने वाला है।

प्राथमिक इलाज के बाद डॉक्टरों ने उसे वाराणसी के लिए रेफर कर दिया। नाबालिग करीब 90 फीसदी तक झुलस चुकी है। डॉक्टरों की टीम मिलकर उसे बचाने में लगी हुई है। पुलिस ने बताया की आरोपी के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट, पॉक्सो एक्ट और आईपीसी की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया है।

 

Facebook Comments