पॉकेट मनी से नहीं हो पाती थी गर्लफ्रेंड की डिमांड पूरी तो किया ये काम….

चोर को जब पुलिस ने पकड़ा तो उसने अपनी चोरी की ऐसी वजह दी की सब दंग रह गए।परिवार से मिलने वाली पॉकेट मनी से एक युवक गर्लफ्रेंड को महंगे गिफ्ट नहीं दे पाता था। वह ड्रग्स लेता था और इसके आदी हो चुके युवकों को चेन और मोबाइल स्नैचिंग करने पर मजबूर करता था।

मोबाइल के बदले युवक नशे के लिए स्मैक देता था। छीने हुए मोबाइल वह गर्लफ्रेंड को गिफ्ट कर देता था और बाकी मोबाइल बेच देता था। द्वारका जिला पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने युवक से 20 मोबाइल और स्मैक बरामद किया और उसे गिरफ्तार कर लिया।

 

पुलिस को 24 अप्रैल को सूचना मिली कि विनय कुमार चोरी के कुछ मोबाइल फोन बेचने के लिए नजफगढ़ आ रहा है। इसके बाद एसीपी (ऑपरेशन) एस. पी. त्यागी के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई। ट्रैप बिछाकर पुलिस तैयार थी। इसी बीच एक व्यक्ति प्लास्टिक के बैग के साथ शाम 4.50 बजे दिखाई दिया। पुलिस ने शक के आधार पर उसे रोका, लेकिन युवक ने भागने की कोशिश की। पुलिस ने उसे दबोच लिया। तलाशी में उसके पास से 20 स्मार्ट फोन और 14 ग्राम का एक पैकेट रिफाइंड स्मैक मिली।

पूछताछ में विनय ने बताया कि वह नजफगढ़ में स्मैक बेचकर काफी पैसा कमाता है। इसके अलावा, ड्रग्स लेने की लत के शिकार लोगों को भी वह ड्रग्स के बदले मोबाइल छीनने को कहता है। इसकी वजह से उसे काफी मोबाइल मिल जाते और वह उन्हें बेच देता है। नजफगढ़ थाना पुलिस ने विनय पर मामला दर्ज कर लिया है। विनय के पास से महंगे मोबाइल मिले हैं। विनय ने बताया कि उसके पिता इलेक्ट्रिशन हैं। उसे ज्यादा पॉकेट मनी नहीं मिलती थी। उसे ड्रग्स लेने के साथ गर्लफ्रेंड की डिमांड पूरी करने के लिए हमेशा पैसों की जरूरत होती थी।इस वजह से वह स्नैचिंग करवाने लगा।

 

Facebook Comments