पैरामेडिकल परीक्षा में शामिल होने आई छात्राओं के कपड़ों की आस्तीनें काट देने का मामला सामने आया….

मुजफ्फरपुर के केंद्रों में भी परीक्षा का आयोजन किया गया था. यहां केंद्रों पर छात्राएं सुबह परीक्षा देने पहुंची. जिन छात्राओं के कुर्तों की आस्तीनें बड़ी थीं उनकी आस्तीनें काट दी गईं. इस दौरान छात्राएं रोती रहीं लेकिन केंद्रों के बाहर चेकिंग में लगी महिला शिक्षिकाएं नहीं मानीं. छात्राओं से कहा गया कि अगर वे परीक्षा में सम्मलित होना चाहती हैं तो उन्हें अपने कुर्ते की आस्तीनें कटवानी पड़ेंगी. जिन छात्राओं ने विरोध किया उन्हें वहां से फटकार कर भगा दिया गया. ऐसे में मजबूरन छात्राओं ने अपने कुर्ते की आस्तीनें कटवाईं.

बिहार के मुजफ्फरपुर में पैरामेडिकल परीक्षा में शामिल होने आई छात्राओं के कपड़ों की आस्तीनें काट देने का मामला सामने आया है. आस्तीनें महिला शिक्षिकाओं दवारा काटी गई और ब्लेड और कैंची का प्रयोग किया गया पूरी घटना का किसी ने विडियो बनाया और उसे वायरल कर दिया गया. विडियो वायरल होने के बाद प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं. शनिवार को बिहार पैरामेडिकल की प्रवेश परीक्षा था.

इस मामले में शिक्षा विभाग के अधिकारी ललन प्रसाद सिंह ने बताया कि उन्हें इस घटना की जानकारी मिली है. घटना एक निजी स्कूल में आयोजित पैरामेडिकल की प्रवेश परीक्षा से जुड़ा है जिसकी जांच की जा रही है. इधर स्कूल को ब्लैक लिस्टेड भी कर दिया गया है. अब स्कूल को कभी भी परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाएगा. पुलिस मामले की जांच की जा रही है.

Facebook Comments