पोर्न्स में भी छाए मोदीजी, सर्च की गयी उनकी इतनी …. xvideos भी पीछे

सरकार ने आधार को सभी जगह लिंक करने के फैसले से लोगों को मुसीबत में डाल दिया है इसी के चलते एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आयी है जिसमें लोग इंटरनेट पर पोर्न से ज्यादा आधार सर्च कर रहे हैं.

वेबसाइटो का मूल्यांकन करने वाली अमेज़न कंपनी की अलेक्सा वेबसाइट के मुताबिक पिछले महीनों में भारतीयों ने पॉर्न से ज्यादा आधार को सर्च किया है. भारतीय Xvideos से ज्यादा यूनीक आइंडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) की वेबसाइट को ज्यादा सर्च कर रहे हैं. यानी यूआईडीएआई को पॉर्न से भी ज्यादा ट्रैफिक मिल रहा है.

 

एलेक्सा की रिपोर्ट में यूआईडीएआई भारत की टॉप 50 वेबसाइट्स में 14वें नंबर पर है. वहीं Xvideos वेबसाइट 15वें नंबर पर है. इस लिस्ट में टॉप 3 में गूगल है, चौथे नंबर पर फेसबुक है. 12वें और 13वें पर इंडिया टाइम्स और इंस्टाग्राम हैं.

दुनियाभर में पॉर्न देखने वालों में से भारत तीसरे नंबर पर है

एक खबर के मुताबिक एलेक्सा ने ग्लोबली Xvideos की वेबसाइट को 38वें नंबर पर रखा है. इसके ट्रैफिक में 8.6 प्रतिशत ट्रैफिक भारत की तरफ से आता है. दुनिया भर में पॉर्न देखने वालों में से भारत तीसरे नंबर पर आता है. फिर भी आधार ने इस ट्रेंड को पीछे छोड़ दिया है. दुनिया भर में एडल्ट इंडस्ट्री का कारोबार बिलियन डॉलर्स में है. हर सेकेंड कम से कम 28,000 लोग पॉर्न देख रहे होते हैं. एडल्ट कंटेंट पर हर सेकेंड 3000 डॉलर खर्च किया जाता है.

Facebook Comments