छोटे भाई ने बड़े भाई को संपत्ति के लिए पेट्रोल छिड़ककर जिन्दा जलाया….

यहाँ इचाक थाना क्षेत्र के डुमरौन गांव में छोटे भाई ने संपत्ति विवाद के चलते अपने ही बड़े भाई को पेट्रोल छिड़क कर ज़िंदा जला दिया, वारदात को अंजाम देकर हत्यारा वहां से फरार हो गया. यह घटना मंगलवार सुबह 5 बजे की है .झारखण्ड में संम्पति विवाद ने एक बार फिर खून के रिश्तों को कलंकित किया है.

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार शंकर प्रसाद मेहता (35) मंगलवार को सुबह पांच बजे अपने घर से निकलकर प्याज कोडने के लिए खेत जा रहा था, वह घर के कुछ 50 कदम दूर पहुंचा होगा कि उसका छोटा भाई जोधी प्रसाद मेहता हाथ में पेट्रोल भरा डब्बा लिए उसके पास पहुंचा, जोधी ने अपने बड़े भाई शंकर को धक्का देकर निचे गिरा दिया,  फिर उसपर डिब्बे से पेट्रोल छिड़कने लगा, जिसके बाद उसने माचिस की तीली जलाकर शंकर की तरफ उछाल दी. जिससे तुरंत आग भड़क उठी, आग में बड़े भाई को तड़पता देख हत्यारा वहां से भाग निकला.

जब स्थानीय लोगों ने चीख-पुकार सुनी तो वे घायल अवस्था में शंकर को सदर अस्पताल ले गए, लेकिन मामला गंभीर होने के कारण सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने शंकर को रांची के रिम्स अस्पताल रेफेर कर दिया, जहाँ तक पहुँचते-पहुँचते, रस्ते में ही शंकर की साँसे थम गई. मृतक के तीन बच्चे हैं, जबकि उनकी पत्नी सुमन देवी घटना के बाद से ही सदमे में है. पुलिस ने सुमन देवी के बयान पर मुकदमा दर्ज कर लिया है. ग्रामवासियों ने पुलिस को बताया कि काफी वर्षों से दोनों भाइयों के बीच संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था. पुलिस फ़िलहाल हत्यारे की तलाश में लगी हुई है.

Facebook Comments