ये है दुनिया की सबसे अनोखी जगह, जमीन से 30 फीट अंदर रहते हैं लोग हमेशा रहती है ठंड

हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट में एक ऐसी अजब दुनिया है जो अपने आप कई रहस्य समेटे हुए है। वैसे बुडापेस्ट अपनी खूबसूरत इमारतों के लिए दुनिया भर में मशहूर है पर, यहां जमीन के 30 मीटर नीचे छुपी आलीशान दुनिया है।

 

जो यहां पहुंचता है इस दुनिया का दीदार करना नहीं भूलता। धरती के नीचे बसी इस दुनिया में स्कूबा डाइविंग की जाती है। बुडापेस्ट में ज्यादातर इमारतें चूना पत्थर से बनी हैं। यहां तक कि 1902 में बनी न्यू-गोथिक पार्लियामेंट बिल्डिंग भी इसी पत्थर से बनी है। इमारतों के लिए चूना पत्थर कोबानिया इलाके से खुदाई करके लाया गया था।
 इस जगह का निर्माण तहखाना बनाने के लिए किया गया था। लोगों ने उस समय में जमीन की सतह से करीब 30 मीटर नीचे 32 किलो मीटर लंबा तहखाना बनाया था। इसके बाद1990 में यहां बाढ़ आई तो इस तहखाने में पानी भर गया। स्थानीय सरकार ने गोताखोरों के समूह से तहखाने का पानी निकालने को कहा।
जब गोताखोर सफाई करने तहखाने में उतरे तो उन्हें लगा कि तहखाने के कुछ हिस्से को मौज-मस्ती वाली डाइविंग के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि यहां बड़ी संख्या में लोग डाइविंग नहीं करते, लेकिन कुछ लोग यहां डाइविंग करने आते हैं। बता दें कि कोबानिया सुरंग के नजदीक चार ऐसी जगहें हैं, जहां गोताखोरी की जा सकती है, लेकिन इनमें से सिर्फ एक ही डाइविंग के लिए इस्तेमाल की जाती है।
यहां सुरंग की खुदाई का काम 1890 में रुक गया था और इसके पीछे की वजह बाढ थी। सुरंग के अंदर चैंबर्स के अलावा सीढ़ियां भी हैं। जहां तैराकी के वक्त सावधानी बरतनी जरूरी है।
यहां पानी का तापमान करीब 12 डिग्री सेल्सियस रहता है। पार्क कुत में पानी की सतह से करीब 17 मीटर नीचे और जमीन की सतह से करीब 47 मीटर नीचे तक ग़ोताखोरी की जा सकती है।
Facebook Comments