अलीमुद्दीन हत्याकांड में 11 दोषियों को उम्रकैद की सजा

झारखंड के रामगढ़ के फास्‍ट ट्रैक कोर्ट ने आज अलीमुद्दीन हत्याकांड में सभी 11 अभियुक्तों को उम्र कैद की सजा सुनाई है। पिछले सप्ताह इन्हें मामले में दोषी करार दिया था। बीफ ले जाने के आरोप में इन सभी 11 दोषियों ने रामगढ़ में अलीमुद्दीन की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी।

मनुआ फुलसराय के रहने वाले अलीमुद्दीन की हत्या 29 जून 2017 को की गई थी। मारूति वैन से बीफ ले जाने के आरोप में भीड़ ने अलीमुद्दीन को बाजार टांड स्थित गैस एजेंसी के पास ही बुरी तरह पीटा था जिससे उसकी मौत हो गई थी।

न्यायालय ने आरोपी दीपक मिश्रा, गोरक्षा समिति के अध्यक्ष छोटू वर्मा, संतोष सिंह, विक्की साव, सिकंदर राम, विक्रम प्रसाद, राजू कुमार, रोहित ठाकुर, भाजपा नेता नित्यानंद महतो, कपिल ठाकुर व उत्तम राम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। इसके अलावा कुल पांच हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है। आरोपी छोटू वर्मा, दीपक मिश्रा, संतोष सिंह को 120 बी के तहत भी अलग से दो हजार जुर्माना व आजीवन कारावास की सजा दी है।

बता दें की इस मामले में कुल 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। जिसमें एक नाबालिग शामिल है, उसके खिलाफ जुवेनाइल कोर्ट में सुनवाई चल रही है। कोर्ट ने बीते 16 मार्च को इन आरोपियों को दोषी करार दिया था। भारतीय दंड संहिता की धारा (आईपीसी) 147, 148. 149, 421, 431, 302 व 102 के तहत सभी आरोपियों को दोषी पाया गया।

Facebook Comments