पहाड़ पर रहने वाले एक शख्स ने जिद्द में बना डाली दुनिया की सबसे छोटी पेंसिल…

इसको बनाने वाले शख्स का नाम प्रकाश चंद्र उपाध्याय है। इस अनोखे आविष्कार के लिए उनका नाम विश्व रिकॉर्ड में दर्ज हो गया। बता दें प्रकाश चंद्र उपाध्याय हल्द्वानी के डॉ. सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज के आर्टिस्ट विभाग में कार्यरत हैं। 45 वर्षीय प्रकाश को यह पेसिंल बनाने में केवल 3 से 4 दिन लगे।

उत्तराखंड के हल्द्वानी में एक जनाब ने दुनिया की सबसे छोटी पेंसिल बना डाली। जी हां.. हाथों की उंगली में पड़ा ये कोई कीड़ा या चावल का दाना नहीं बल्कि एक पेंसिल है।

इस पेंसिल की लंबाई 5 एमएम और चौड़ाई 0.5 एमएम बताई जा रही है। हैरानी की बात यह है कि पेंसिल लकड़ी और एचबी से बनी है। इतने छोटे आकार की पेंसिल बनाना मुमकिन कैसे हुआ, कई लोग तो अब तक इसी जोड़-तोड़ में लगे हैं।

इसको बनाने वाले शख्स का नाम प्रकाश चंद्र उपाध्याय है। इस अनोखे आविष्कार के लिए उनका नाम विश्व रिकॉर्ड में दर्ज हो गया। बता दें प्रकाश चंद्र उपाध्याय हल्द्वानी के डॉ. सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज के आर्टिस्ट विभाग में कार्यरत हैं। 45 वर्षीय प्रकाश को यह पेसिंल बनाने में केवल 3 से 4 दिन लगे।

उन्होंने पेंसिल बनाने के लिए माचिस की तीली का इस्तेमाल किया है। प्रकाश द्वारा बनाई गई पेंसिल का साइज 0.5*0.5*0.5 एमएम है। इसे असिस्ट वर्ल्ड रिकार्ड 2017-18 में शामिल किया गया है। मूलरूप से अल्मोड़ा के धौलादेवी ब्लाक निवासी प्रकाश ने माचिस की तीली का और बाजार में बिकने वाली साधारण पेंसिल की लेड का इस्तेमाल कर इसे बनाया है।

Facebook Comments