MP : सत्ता की चाभी इन आठ उम्मीदवारों के पास, बीजेपी-कांग्रेस की इन पर नजर

मध्य प्रदेश में भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे का मुकाबला चल रहा है। देर शाम तक के रुझानों में यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि बहुमत किसे मिलेगा। रुझान से यह भी नहीं पता चल पा रहा है कि कौन सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरेगी। मध्य प्रदेश में जैसे जैसे चुनाव परिणाम के रुझान लाने लगे तो कभी कांग्रेसियों के चेहरे खिलते तो कभी भाजपाइयों के।

रूझाने के साथ ही कांग्रेस की ओर से बयानबाजी भी शुरू हो गई। सपा की तरफ से यह एलान कर दिया गया है कि वह मध्य प्रदेश में भाजपा को रोकने के लिए किसी के भी साथ जा सकती है।

अब ऐसे परिस्थिति में जब मामला फंस गया है तो कांग्रेस और भाजपा ने दूसरे दलों पर नजरें गड़ा दी है। चुनाव आयोग के रुझान के मुताबिक समाजवादी पार्टी एक सीट पर, बहुजन समाजवादी पार्टी दो सीट पर, गोंडवाना स्वतंत्र पार्टी एक सीट पर जबकि चार सीटों पर निर्दलीय आगे चल रहे हैं। इन सभी आठ सीटों पर यह लोग अच्छी खासी बढ़त लिए हैं।

अमरवाड़ा सीट पर गोंडवाना स्वतंत्र पार्टी के उम्मीदवार पांच हजार वोट से आगे हैं। भगवानपुर सीट से निर्दलीय केदार डाबर 17 हजार वोट से आगे चल रहे हैं। भिंड सीट से बसपा के संजीव सिंह दस हजार से भी ज्यादा वोट से आगे चल रहे हैं। ऐसे में चुनावी विशेषज्ञों का कहना है कि अगर ये आठ जीत गए तो सत्ता की चाभी इन्हीं के पास होगी।

Facebook Comments