कश्मीर के राजौरी सेक्टर से घुसपैठ करने की फ़िराक़ में आतंकी….

भारतीय सेना हर मोर्चे पर पाकिस्तान को धूल चटा रही है, फिर भी कभी वो संघर्षविराम का उल्लंघन कर, तो कभी सुनसान इलाके से घुसपैठ कर अपनी नापाक हरकतों को अंजाम देने की फ़िराक़ में लगा रहता है.

हाल ही में ख़ुफ़िया एजेंसियों के द्वारा तैयार की गई एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान इस बार जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर से घुसपैठ करने की फ़िराक़ में है.  पाक राजौरी सेक्टर के सामने अपनी एफडीएल (फॉरवर्ड डिफेंस लोकेशंस) मजबूत कर रहा है. साथ ही उसने पाक अधिकृत कश्मीर में राजौरी सैक्टर के पास एयर डिफेंस गन, आर्टिलरी और 102 MM मोर्टार तैनात किया है.

रिपोर्ट में यह भी बताया है कि ‘जब्बार’ से घुसपैठ के लिए कवर फायरिंग देने के लिए ‘642 मुजाहिद बटालियन’ को भी तैनात किया है. जब ये मुजाहिद बटालियन घुसपैठ करती है, तब पाकिस्तानी सेना उन्हें पीछे से कवर फायर करके घुसपैठ करने में उनकी मदद करती है. आतंकियों को भारतीय सीमा में दाखिल कराने के लिए पाकिस्तान ने 3 और जगहों (पीर कालंजर, डोतिल्ला, केजी टॉप) पर कवर फायर के लिए क्रमशः 801, 701 और 656 मुजाहिद बटालियन को तैनात किया है, जिसमे सबसे ज्यादा आतंकी राजौरी से घुसपैठ करने की फ़िराक में हैं.

राजौरी सेक्टर में पाक सेना और आईएसआई के 4 लॉन्चिंग पद भी हैं, जहां से घुसपैठ के लिए 80 आतंकी तैयार किए जा चुके हैं. इन 80 आतंकियों को कोटली, लानजोटे, निकैल और खुरेट्टा के लॉन्चिंग पैड पर इकट्ठा किया गया है ये सभी लोकेशन राजौरी सेक्टर के सामने पीओके में पड़ता है, जहां से पाक ने घुसपैठ की योजना बनाई है. आपको बता दें कि हर साल पाक सर्दियों में घुसपैठ करता है, लेकिन इस साल सेना ने उसकी योजना विफल कर दी, इसीलिए अब पाक गर्मियों में घुसपैठ करने की तैयारी में है.

Facebook Comments