जया बच्चन को फिर से राज्यसभा भेजेगी सपा, नरेश अग्रवाल का कटा टिकट

आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश से अभिनेत्री जया बच्चन को राज्यसभा उम्मीदवार बनाने की घोषणा की है. यूपी में सपा विधायकों की संख्या को देखते हुए जया बच्चन का दोबारा राज्यसभा जाना तय माना जा रहा है.

बता दें कि उत्तर प्रदेश में 23 मार्च को राज्य की 10 राज्यसभा सीटों के लिए चुनाव होने वाले हैं. समाजवादी पार्टी के पास इस वक्त 403 में से 47 विधायक हैं. जबकि एक राज्यसभा सीट पर जीत के लिए 38 विधायक होने जरूरी हैं. संख्या बल को देखते हुए जया बच्चन की जीत तय मानी जा रही है.

निर्वाचन के बाद वे दूसरी बार समाजवादी पार्टी से राज्यसभा का प्रतिनिधित्व करेंगी. कहा जाता है कि अमर सिंह ने उन्हें राजनीति में दाखिल कराया था. जिसके बाद वे समाजवादी पार्टी से पहली बार राज्यसभा सांसद बनीं थीं. बाद में अमर सिंह और बच्चन परिवार में दूरियां भले बढ़ गईं, मगर समाजवादी पार्टी और मुलायम परिवार से रिश्ते पहले जैसे ही रहे.

 

गौरतलब है कि इस बार बहुजन समाज पार्टी ने गोरखपुर और फूलपुर की लोकसभा सीटों के उपचुनाव में समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का फैसला किया है. बदले में समाजवादी पार्टी ने राज्यसभा चुनाव में सपोर्ट करने की बात कही है. लिहाजा राज्यसभा सीटों के चुनाव में सपा के नौ सरप्लस वोट बसपा उम्मीदवार को मिलेंगे. हालांकि सपा के समर्थन के बाद भी बसपा को अपने उम्मीदवार भीमराव अंबेडकर को जिताने के लिए मशक्कत करनी पड़ेगी. क्योंकि बसपा के पास मात्र 19 विधायक हैं. वहीं सपा के सरप्लस नौ वोट जोड़ देने पर यह आंकड़ा 28 तक पहुंचता है. इसके बाद भी 38 के आंकड़े तक पहुंचने के लिए दस विधायकों की जरूरत पड़ेगी. हालांकि कहा जा रहा है कि कांग्रेस के सात विधायक बसपा को समर्थन कर सकते हैं.

इस प्रकार तीन और विधायकों की जरूरत बसपा को पड़ेगी. माना जा रहा है कि बसपा तीन विधायकों के समर्थन के लिए जोड़-तोड़ कर सकती है. बता दें कि जया बच्चन अपने जमाने में मशहूर अभिनेत्री रह चुकी हैं. बॉलीवुड के महानायक अभिताभ बच्चन की पत्नी जया को उनके बेमिसाल अभिनय के लिए तीन बार ‘फिल्मफेयर बेस्ट एक्ट्रेस’ का अवार्ड और तीन बार ‘बेस्ट सपोर्टिग एक्ट्रेस’ का पुरस्कार मिल चुका है. उन्हें वर्ष 1992 में भारत सरकार से पद्मश्री भी मिल चुका है.

Facebook Comments