हनुमा विहारी को दूसरा वीवीएस लक्ष्मण कहा जाता है हैदराबाद में, जानिए क्यों

तीसरे टेस्ट में जीत के बाद आखिरी दो टेस्ट मैचों के लिए भारतीय टीम में हनुमा विहारी और पृथ्वी शॉ को शामिल किया गया है।इसमें हनुमा विहारी का नाम चौंकाने वाला रहा उम्मीद की जा रही थी मंयक अग्रवाल को चुना जाएगा अगर विहारी के रिकॉर्ड देखे जाएं तो वे भी कम दावेदार नहीं थे।

उनके शुरुआती कोच जॉन मनोज ने विहारी के लिए कहा था कि एक दिन यह लड़का टीम इंडिया के लिए खेलेगा. हालांकि मनोज कभी वीवीएस लक्ष्मण के लिए भी कुछ इसी तरह की भविष्यवाणी कर चुके हैं12 साल की उम्र में अपने पिता को खो चुके हनुमा के क्रिकेट के प्रति जुनून को उनकी मां विजयलक्ष्मी ने पहचानकर उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।12 साल की उम्र में अपने पिता को खो चुके हनुमा के क्रिकेट के प्रति जुनून को उनकी मां विजयलक्ष्मी ने पहचानकर उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

वे क्रिकेट के इस फॉर्मेट में सर डॉन ब्रैडमैन के काफी करीब हैं. ब्रैडमैन ने 234 मैचों में 95.14 की औसत से 28,067 रन बनाए थे. टेस्ट क्रिकेट की तरह फर्स्टक्लास में भी ब्रैडमैन का औसत सबसे अधिक है. हनुमा विहारी फर्स्टक्लास क्रिकेट में औसत की सूची में टॉप-10 में हैं।इसीलिए हैदराबाद में इनको वीवीएस लक्ष्मण कहकर सम्मान दिया जाता है ।

Facebook Comments