करें इस खास पानी का सेवन कभी नही होगा कैंसर….

आज जिस पानी की बोतल की बात हम आपसे कर रहें हैं। वह ईशा फाउंडेशन से ही जुड़ी है। इस बोतल पर जो फीचर्स बताये गए हैं यदि कोई उनको पढ़ लें तो वह स्वाभाविक ही हैरान रह जायेगा।

चलिए आप पहले उस बोतल की एक तस्वीर को यहां देख लीजिये। “कैलाश तीर्थ” नामक यह पानी की बोतल तांबे धातु की बनी है और इसमें एक लीटर पानी है।

इसकी कीमत जानकर आप हैरान रह जायेंगे। बात शुरू होती है ईशा फाउंडेशन से।

इसके कर्ताधर्ता सतगुरु जग्गी वासुदेव के बारे में आपने बहुत कुछ सुना तथा पढ़ा ही होगा। वे कभी कभी टीवी प्रोग्राम पर आध्यात्मिक चर्चा करते हुए भी दिखाई दे जाते हैं।

इस बोतल के पैकेट पर जो डिस्क्रिप्शन मिलता है। उसके अनुसार इस पानी को कैलाश पर्वत के दक्षिण मुख से लिया गया है। बोतल के पैकेट पर “कैलाश तीर्थ” लिखा हुआ है। मानों जैसे कैलाश की ऊर्जा अभी भी इस पानी में ही हो। पानी के डिस्क्रिप्शन में बताया गया है कि इस पानी में आपकी याददाश्त तथा ऊर्जा को स्टोर रखने की क्षमता है। मान्यता है कि कैलाश का दक्षिणी हिस्सा रहस्यों से भरा हुआ है। यही कारण है कि इस पानी में भी दिव्य ऊर्जा का प्रवाह बताया गया है। इसे पीने वाला हमेशा कैंसर से बचकर रहेगा।

इस पानी को एक तांबे की बोतल में रखा गया है तथा इस बोतल के अंदर सिल्वर लाइन है। देखा जाए तो सिल्वर तथा तांबा दोनों ही पानी को ऊर्जावान बनाने का कार्य करते हैं। आयुर्वेद में भी इस बात का उल्लेख मिलता है कि सिल्वर के बर्तन में रखा पानी एंटी-बैक्टीरियल गुण रखता है। इस हिसाब से देखा जाए तो यह सब विज्ञान की पॉवर दिखाई पड़ती है न की कैलाश की।

 

Facebook Comments