काशगंज : जिहादियों के घरो से मिले देशी बम व पिस्टल ,ग्रह युद्ध की पूरी तैयारी

source
source

कासगंज मैं जिस तरह से कुछ जिहादी सोच रखने बाले लोगो ने तिरंगा यात्रा पर हमला किया था उसकी आज हर तरफ निंदा हो रही है। सोशल मीडिया पर लोग जम कर इसका बिरोध जता रहे है। और लोग अलग अलग तरिके से अपने बिरोध मैं राजनैतिक पार्टियों को आड़े हांथो ले रहे है। लोगो का कहना है की राजनैतिक पार्टिया जिस तरह से किसी मुश्लिम ब्यक्ति की मौत पर उसका बिरोध करने आ जाते है लेकिन जब यही घटना एक हिन्दू युबक के साथ हुई है तब उसका बिरोध करने के लिए कोई भी पार्टी आगे नहीं आना चाहती है।

इसका साफ़ मतलब निकलता है की पार्टिया सिर्फ अपना वोट बैंक बचाने मैं लगी हुई है। उसे किसी की मौत से कोई फर्क नहीं पढ़ रहा हैं। अगर यही घटना किसी मुस्लिम युबक के साथ हुई होती तो न जाने कितनी ही पार्टिया हिन्दुओ के आतंकबाद घोसित क्र देती और न जाने कितने ही लोगो को यह देश सुरछित नहीं लगता मगर। इस बक्त हर एक को यह देश सुरछित भी लगा रहा है और इसी बजह से कोई इसका बिरोध नहीं कर रहा है अपने राजनैतिक फायदे की बजह से।

 

जिस प्रकार जिहादी लोगो ने तिरंगा यात्रा पर एसिड फेककर और उनके ऊपर पत्थर और गोलिया बरसाकर हमला किया था बह सिर्फ एक जिहादी ही हो सकता है किसी धर्म और जाती से ताल्लुक रखने बाला नहीं। और आप सबने खुद देखा है की किश तरह से बन्दे मातरम और भारत माता की जय बोलने की बजह से चन्दन गुप्ता कर उसके साथी राहुल उपाध्याय को मौत के घात उतार दिया गया।

और यह बिकाऊ मीडिया इन जिहादियों के समर्थन करने से बिलकुल भी नहीं बच रही है। अगर यही घटना किसी मुस्लिम युबक के साथ हुई होती तब यही मीडिया के हर एक चैनल पर इस बक्त उसी की हेड लाइन दिख रही होती आप सब को मगर यह घटना तो मात्र एक हिन्दू युबक के साथ हुई है तो मीडिया ने इस पर हमेशा की तरह एक बार फिर से चुप्पी साध ली। मीडिया ने तो यंहा तलक कह दिया की हिन्दू लोग भारत माता की जय जैसे भड़काऊ भासण लगा रहे थे। क्या भारत देश मैं होने ही देश मैं भारत माता की जय बोलना गुनाह है। मीडिया द्वारा पूरी तरह से जिहादियों के बचाब की पूरी कोसिस की गयी है। पूरा देश इस बक्त यह सब देख रहा है।

आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पुलिस ने उन जिहादियों के घर पर छापेमारी की बह भी कैमरे के साथ बरना यह मीडिया यह भी कह देती की पुलिस ने कोई छापेमारी की ही नहीं जिहादियों को बिना बजह फंसाया जा रहा है।

 

जिस प्रकार पुलिस ने उन जिहादियों के घर छापेमारी की बह काबिले तारीफ है। जिहादियों के घर से पुलिस को देशी बम और पिस्टल बरामद हुई है। यह सब गैर कानूनी है। आप खुद अंदजा लगा सकते है इन जिहादियों के घर का यह हाल है। इन जिहादियों के घरो पर हथियारों की कोई कमी नहीं है। बंदूकों के अलाबा बह अपने घर पर देशी बम भी रखते है। और इन्हे जब भी जिहाद करना होगा उसकी पूरी तैयारी करके रख रखी है उन्होंने। ग्रह युद्ध करबाने की पूरी तैयारी मिल जायेगे इनके घरो पर। फिलाहल जिहादी इस बक्त पुलिस की गिरफ्त से फरार चला रहे है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कासगंज जिहादी बहुल छेत्र नहीं है तब तो इन लोगो के घरो से यह सब चीजे बरामद हो रही है। मगर आप सोच कर देखिये की बरेली रामपुर मेरठ जैसे सहरो मैं स्थित इन जिहादियों के घरो मैं से क्या क्या बरामद होगा। सेकुलरिज्म ने भारत की ये स्तिथि बनाई है की हर शहर में आज मिनी पाकिस्तान बने हुए है और यहाँ पर आप भारत माता की जय का नारा नहीं लगा सकते अन्यथा आपको मौत के घाट तक उतार दिया जायेगा, और मीडिया कहेगा की आपने भारत माता की जय जैसे भड़काऊ नारे लगाए ही क्यों

Facebook Comments