Top Stories : केरल में भंयकर बाढ़ के बाद अब लोगों के लिए खतरा बने सांप

केरल में आई बाढ़ का पानी उतरने के बाद लोग अब अपने घरों को लौट रहे हैं । लेकिन अभी तक उनकी परेशानियां पूरी तरह खत्म नही हुई है। लोगो के घरो में अब  सांपों और अन्य कीड़ों ने कब्जा कर लिया है। त्रिसूर जिले के चलकुडी में सोमवार रात एक आदमी अपने घर लौटा तो उसको अपने घर में एक मगरमच्छ मिला, उस आदमी और उसके पड़ोसियों ने जल्दी से उसे पकड़कर रस्सी से बांध दिया।

गौरतलब है कि इस विनाशकारी बाढ़ ने केरल के सर्वाधिक जिलें जैसे  त्रिसूर, अलप्पुझा, पथनामथित्ता, इडुक्की, कोझिकोड, एर्नाकुलम, मलप्पुरम और वायनाड जिलों पर अपना प्रभाव डाला हैं। इन इलाको में अबतक लगभग 370 लोगों की मौत हो चुकी है, लगभग 10 लाख लोग बेघर हो गए हैं तथा निजी और सार्वजनिक संपत्ति को भारी नुकसान पहुंचा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जैसे-जैसे यहां से बाढ़ का पानी निकल रहा है ढेर सारे सांप भी बाहर आ रहे हैं। ऐसे में जो लोग घर लौट रहे हैं उनके लिए खतरा और भी बढ़ गया है। इसे देखते हुए केरल में स्नेक बाइट एक्सपर्ट और सांप को बचाने वाले लोगों को बुलाया गया है। मलप्पुरम में सांप पकड़ने वाला एक व्यक्ति मुस्तफा इस समय काफी व्यस्त है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि पिछले दो दिनों में पानी कम होने के बाद से वह लगभग 100 सांप पकड़ चुका है। उसका कहना है की, “बाढ़ के पानी के साथ सांप आना स्वाभाविक है और तालाबों और नदियों में बाढ़ आने पर अन्य कीड़े भी आ जाते हैं। अपने घरों को लौट रहे लोगों को सतर्क रहना चाहिए और उन्हें जूतों, टूटे हुए टाइलों या गीली लकड़ियों में हाथ नहीं डालने चाहिए”।
बता दे की एर्नाकुलम जिले के अंगमली में एक अस्पताल में सर्पदंश के 52 पीड़ितों का इलाज चल रहा है । केरल सरकार के जनसंपर्क विभाग ने इस संबंध में सोशल मीडिया पर अभियान चलाया है। इसी के साथ सरकार ने घोषणा भी की है कि प्रभावित स्थानों पर जल्द से जल्द विष-रोधी दवा उपलब्ध करा दी जाएगी।

Facebook Comments