नग्नता पर जमकर बोली कोंकणा कहा सेंसर बोर्ड बेवकूफ है…

शादी के बाद फिल्मों से दूरी बना चुकीं बॉलीवुड की एक्ट्रेस कोंकणा सेन शर्मा ने सेंसर बोर्ड के रवैये से हो रही कलाकारों की परेशानी को लेकर बड़ी बात कही है. कोंकणा ने बताया कि बोर्ड अक्सर पुराने नियमों को लेकर काफी सख्ती बरतते नज़र आते हैं. कोंकणा ने अपनी फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माय बुरका’ के बारे में बात करते हुए बताया कि सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को केवल यह कहकर पास नहीं किया था कि, यह बहुत ज्यादा महिला प्रधान फिल्म है और इसमें कई तरह के पॉर्न कंटेंट हैं.

सेंसर बोर्ड द्वारा लिए गए इस निर्णय पर कोंकणा ने कहा किए, इन सबको देखते हुए आप सेंसर बोर्ड को बकवास कह सकते हैं. कोंकणा ने अपने बयान में कहा कि, “जो वयस्क हैं, वे देश की सरकार चुनने के साथ ही जीवन के तमाम फैसले कर रहे हैं. ऐसे में उन्हें यह बताना कि यह फिल्म ऐसी है या वैसी है या आपका चरित्र खराब कर सकती है, इन बातों का कोई मतलब नहीं रह जाता.”

अपनी बात को आगे जारी रखते हुए अभिनेत्री ने अपनी सह-कलाकार कल्कि कोचलिन के बयानों को देहराते हुए कहा कि, वह बोर्ड से केवल एक प्रमाण-पत्र चाहते हैं, ना कि किसी तरह की कोई सेंसरशिप. वही फिल्म की निर्देशक अलंकृता श्रीवास्तव ने बोर्ड के मेंबर्स द्वारा लिए गए इस फैसले के पीछे पुरुषवादी सोच को जिम्मेदार ठहराया है.

Facebook Comments