क्यों हेमामालिनी को देखकर शर्मा गए थे अटल…

अटल बिहारी वाजपेयी भारत के सबसे लोकप्रिय राजनेताओं में से एक रहे हैं। राजनीति में रहने के साथ-साथ उनका साहित्य, कविताओं और फिल्मों से भी खास नाता रहा है। फिल्मों से उनका लगाव इसी से समझा जा सकता है कि हेमा मालिनी की एक फिल्म उन्हें इतनी पसंद आई थी कि उन्होंने उस फिल्म को 25 बार देख ली। इस बात का खुलासा खुद बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने एक कार्यक्रम के दौरान किया था।

हेमा मालिनी ने बताया था, ‘मुझे याद है जब एक बार मैंने बीजेपी पदाधिकारियों से कहा कि मैं अपने भाषणों में अटल बिहारी वाजपेयी का जिक्र करती हूं लेकिन उनसे कभी मिली नहीं। इसके बाद मुझे उनसे मिलवाने ले जाया गया। मुलाकात में मैंने महसूस किया कि अटल बिहारी वाजपेयी बात करने में कुछ हिचकिचा रहे हैं।’

हेमा ने आगे कहा था- ‘अटल जी को ऐसे देखकर मैंने वहां मौजूद एक महिला से पूछा कि क्या बात है? अटल जी ठीक से बात क्यों नहीं कर रहे? उन्होंने बताया कि असल में यह आपके बहुत बड़े प्रशंसक रहे हैं।

इन्होंने 1972 में आई आपकी फिल्म ‘सीता और गीता’ 25 बार देखी थी। आज अचानक आपको सामने पाकर हिचकिचा रहे हैं।’

Facebook Comments