लोगों की जान के लिए पिछले 13 सालों से ये शख्स लगातार बिना छुट्टी के कर रहा है काम, अवॉर्ड की बारी आई तो कही ऐसी बात,सब कर रहे तारीफ

जोगी के बारे में कहा जाता है कि वे एक नेक इंसान तो हैं ही साथ ही वे अपने काम के प्रति ईमानदार, और जुझारू भी हैं।
आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने पिछले 13 साल से एक भी छुट्टी नहीं ली है। जिन्होंने अपने काको ही अपनी पूरी दुनिया मान ली है।

हिमाचल प्रदेश रोडवेज के लिए काम करने वाले इस शख्स की पूरे देश में चर्चा हो रही है। परिवहन निगम में कंडक्टर के रूप में काम करने वाले इस शख्स का नाम जोगिंदर सिंह है। जिसने 13 साल तक एक भी छुट्टी नहीं ली है।

जोगी ने साल 2005 में 4 जून को हिमाचल रोडवेज के लिए नाहन डिपो में नौकरी शुरु की थी। जिसके बाद से उन्होंने आज तक एक भी छुट्टी नहीं ली। जोगी के बारे में कहा जाता है कि वे एक नेक इंसान तो हैं ही साथ ही वे अपने काम के प्रति ईमानदार, और जुझारू भी हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि कई बार जोगी त्योहारों के समय भी ड्यूटी पर ही रहते हैं।

जोगी ने रविवार को मिलने वाली छुट्टी भी नहीं ली, जिससे उनके पास रविवार की कुल 303 छुट्टियां इकट्ठी हो गईं, जिसे उन्होंने रोडवेज को दान के रूप में दे दिया। वर्तमान में उनके पास अभी भी 550 रविवार की छुट्टियां हैं। इतना कुछ देखने के बाद सिरमौर कला संगम नाम की एक संस्था जोगी के काम के प्रति लगन के मद्देनजर उन्हें सम्मानित करने जा रही है। जोगी को यह सम्मान आने वाली 28 जून को दिया जाएगा।

लेकिन यहां एक हैरान कर देने वाली बात ये भी है कि जोगी खुद को मिलने वाले इस डॉ. यशवंत सिंह परमार पुरस्कार को लेने भी न जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि उनका कहना है कि अगर वह ये सम्मान लेने जाते हैं तो उन्हें छुट्टी लेनी पड़ेगी, और वह छुट्टी लेना नहीं चाहते हैं। उन्होंने बताया कि ये सम्मान लेने के लिए उनके पिता जाएंगे।

 

Facebook Comments