पति को हुआ शक-सच जानने के लिए उसने बेडरूम में लगाया कैमरा…दिन भर थकी-थकी सी रहती थी पत्नी

सृष्टि के हर जीव और जन्तु की ‘माँ’ की यही मूल पहचान है। एक माँ अपने औलाद के लिए कितने भी त्याग कर दे लेकिन वो उसे कभी याद नहीं रखती फिर भी कई लोग माँ के इस त्याग पर भी सवाल खड़े कर देते है।आज हम आपको एक ऐसी ही महिला की कहानी बताने वाले है जिसके पति को उसपर शक होता था की आखिर वो दिन भर इतनी थकी थकी सी क्यों रहती है ऐसा कौन सा काम वो करती है की उसकी रातों की नींद पूरी नहीं होती।तब इस महिला ने इसका जवाब बड़े ही अच्छे तरीके से दिया जिसे देख आप भी एक माँ के बलिदान और बच्चे के लिए माँ के स्नेह के बारे में अच्छे से समझ जाएंगे।

आज हम आपको अमेरिका के लॉस एंजिलिस की रहने वाली मेलानिया डार्नेल के बारे में बताने जा रहे हैं। जो सुबह उठने के बाद फ्रेश रहने के बजाए काफी थकी-थकी सी रहती थीं। मेलानिया के पति को कुछ समझ नहीं आ रहा था कि आखिर उनके साथ ऐसी क्या दिक्कत हो रही है कि वे सुबह उठने के बाद ज़्यादा थकी हुई रहती हैं। तो वहीं दूसरी ओर मेलानिया को अपनी इस दिक्कत के बारे में सब-कुछ मालूम था।मेलानिया आगे चलकर अपने इन दिनों को याद कर सकें, इसलिए उन्होंने एक प्लान बनाया। जिसके तहत मेलानिया ने अपने रूम की छत पर एक कैमरा लगा दिया। कैमरे में रिकॉर्ड हुई वीडियो को मेलानिया ने करीब तीन महीने पहले शेयर किया था|

क्या है वीडियो में? सोशल मीडिया पर fitmomma4three नाम से पॉपुलर मेलानिया ने बच्चों के साथ रात के वक्त का अपना वीडियो पोस्ट कर मदरहुड की सच्चाई बयां की है।इस विडियो में दिखाया गया है की किस तरह से मेलानिया अपने बच्चो को सुलाने के चक्कर में खुद अपनी नींद पूरी नहीं कर पाती लेकिन इसके बाद करीब 6.20 बजे मेलानिया को बिस्तर छोड़ देना पड़ता है। बता दें, मेलानिया के हसबैंड ट्रैवलिंग जॉब में हैं और ज्यादातर घर से बाहर रहते हैं और ऐसे में उन्हें अकेले ही तीनों बच्चों को देखना पड़ता है और यही कारण है की वो दिन में थकी थकी सी नजर आती हैं।

बैलेंस बनाना है मुश्किल ये वीडियो पोस्ट करते हुए मेलानिया ने कहा कि सूरज डूबने के साथ पेरेंटिंग की जिम्मेदारी खत्म नहीं होती। दिन हो या रात बच्चों की देखभाल जारी रहती है। अपने लिए भरपूर नींद, बच्चों की देखभाल और उनकी इमोशनल जरुरतें पूरी करने के बीच बैलेंस बनाना बहुत मुश्किल काम है। उनका कहना है कि कई रातें जागने के बाद भी मेरे लिए जिंदगी के ये अनुभव बहुत ही खूबसूरत हैं, क्योंकि ये मातृत्व सुख यानी मदरहुड का हिस्सा हैं।

Facebook Comments