चाय की चुश्कियों के साथ होती है ‘सच्चे प्यार’ की शुरुआत….

चाय…! कहने को एक प्याली होती है लेकिन कभी-कभी यह चाय इतना बड़ा काम कर जाती है कि जिसकी आप कल्पना भी नहीं किए होते। खासकर प्यार की शुरुआत करने और दुश्मनी को खत्म करने के मामले में।
दुश्मनी के बारे में बात नहीं करेंगे फिलहाल चाय और प्यार के कनेक्शन पर बात करते हैं। अक्सर ऐसा होता है कि जब को वर पक्ष किसी कन्या पक्ष के यहां जाता है तो यहां पर वर-वधु को एक-दूसरे के सामने लाने में आज भी चाय का ही सहारा लिया जाता है। चाय के सहारे दोनों एक-दूसरे के सामने होते हैं और आंखों ही आंखों में अपने दिल की बात कह जाते हैं।
अगर चाय देते समय लड़का और लड़की एक दूसरे में खो जाते हैं तो ऐसी जगह देर नहीं लगानी चाहिए तुरंत मुंह मीठा करने की बात कही जानी चाहिए। अगर दोनों ने चाय के आदान-प्रदान के दौरान एक-दूसरे को इग्नोर किया हो तो समझ जाइए यह रिश्ता दोनों को मंजूर नहीं है। अगर एक ने इग्नोर किया है तो भी यह समझ जाइए कि इस रिश्ते को वह पसंद नहीं कर रहा है। यानि दूसरे विकल्प की तलाश शुरू कर दीजिए।
चाय…! एक ऐसी चीज जो अक्सर रिश्तों को जोड़ना का काम करती है। गर्ल फ्रेड रूठ गई सारा कुछ छोड़िए आप उसे अपने साथ एक चाय पीने के लिए आमंत्रित कीजिए। बस वह आपके निमंत्रण को स्वीकार कर ले तो आप समझ लीजिए मामला 90 फीसदी सलट गया है। रही सही बात आप चाय की चुश्कियों के बीच सलटा सकते हैं।
यही बात आपके घर में भी लागू होती है। बीबी गुस्सा हो गई है तो आप चिंता मत कीजिए बल्कि यह सोचिए कि अगली बार वह आपकी खामियों की वजह से गुस्सा न हो। आप बीबी के सुबह उठने से पहले चाय बना लीजिए और बेड पर चाय ले जाकर बस इतना कह दीजिए Good Morning मैडम जी! उठ जाइए अब सुबह हो गई है और मैने आपके लिए चाय बनाई है। यकीन मानिए नजारा कुछ और ही होगा। सारे गिले शिकवे दूर हो चुके होंगे और सुबह कुछ ज्यादा ही खिली-खिली लगेगी आपको।
कभी-कभी ऐसा भी होता है कि अगर आपको किसी को मन ही मन में चाहने लगे हो और उसके घर आपका आना जाना है और अपने दिल की बात आप नहीं कह पा रहे हैं तो भी आप चाय का सहारा ले सकते हैं। ऐसा करने के लिए आप उनके घर जाइए और उनके परिवार के बीच ही चाय पीने की बात कहिए।
बस फिर क्या नयन सुख करते रहिए और मौका पाकर जब सामने से आपको कुछ संभावित इसारे मिले तभी चाय की चुश्कियों के बीच आप उनसे अपने दिल की बात कह दीजिए। फिर देखिए आपके चाय की प्यालियों की संख्या बढ़ जाएगी आप चाय के साथ-साथ अपनी ‘चाह’ का भी इंतजार करेंगे और वो भी सब जानने के बावजूद आपके लिए चाय बनाती रहेंगी।
Facebook Comments