अब मकान मालिक जबरदस्ती घर खली नही करा सकते किरायेदारो से,लागू हुआ ये नियम…

हाईकोर्ट एडवोकेट संजय मेहरा का कहना है कि इसके अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नियम हैं।

मकान मालिक किरायेदार से जबर्दस्ती मकान खाली नहीं करवा सकते।

मकान खाली करवाने से पहले मकान मालिक को मकान खाली करवाने का उचित कारण किरायेदार को बताना होता है।

जैसे मप्र में रेंट कंट्रोल अधिनियम लागू होता है। इसके तहत मकान दो परिस्थितयों में मकान खाली करवाया जा सकता है। पहली स्थिति तो यह है कि जब मकान मालिक को खुद रहने के लिए घर की जरूरत हो। ऐसे में मकान मालिक को सिद्ध करना होता है कि उसके पास रहने के लिए दूसरी प्रॉपर्टी नहीं है।

दूसरी परिस्थित वो है जब किरायेदार किराया न दे रहा हो। हालांकि दोनों ही मामलों में केस कोर्ट में जाता है। कई शहरों में रेंट एग्रीमेंट की शर्तों के हिसाब से मकान खाली करवाया जाता है, लेकिन ऐसे केस में भी अंतिम फैसला कोर्ट से ही होता है। आज हम बता रहे हैं कुछ ऐसी बातें जिनका ध्यान एक किरायेदार के तौर पर हर व्यक्ति को हमेशा रखना चाहिए।

Facebook Comments