मानसोरवार यात्रा को गए थे और मौत में फंस गए, 1500 नेपाल में फंसे लोगों में से 250 को बचाया गया

तिब्बत के कैलाश मानसरोवर की  यात्रा से लौट रहे 1,500 भारतीय खराब मौसम और भारी बारिश के चलते नेपाल में फंस गए। हालांकि इनमें से 250 श्रद्धालुओं को हिलसा से निकाल लिया गया। उधर अन्य भारतीयों को निकालने के प्रयास तेज कर दिए गए हैं। वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय श्रद्धालुओं के नेपाल में फंसे होने पर चिंता जताई और अधिकारियों से उनकी हरसंभव मदद करने को कहा। इस बीच हुला जिला पुलिस अधिकारी ने बताया कि यात्रा के दौरान अब तक 2 श्रद्धालुओं केरल के नारायणम लीला (56) और आंध्र प्रदेश की सत्या लक्ष्मी की मौत हो चुकी है।
PunjabKesari
उधर भारतीय दूतावास नेपाल की सेना के सम्पर्क में है, जिसने हैलीकॉप्टर को तैयार रखा है। हैलीकॉप्टर मौसम साफ होते ही उड़ान भरेंगे। दूतावास ने अगले 3-4 दिन में सभी भारतीयों को निकालने की उम्मीद जताई है। वहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपने ट्वीट में कहा कि भारत ने तीर्थ यात्रियों एवं उनके परिवारों के लिए हॉटलाइन स्थापित की है और उन्हें तमिल, तेलुगू, कन्नड़ और मलयालम भाषा में सूचनाएं प्रदान की जाएंगी।

PunjabKesari

Facebook Comments