जेल अधीक्षक ने बायोमेट्रिक हाजिरी के लिए बनवाया नकली अंगूठा….

लेकिन कुछ लोगों के पास इसका भी तोड़ है। उम्मीद की जा रही थी कि इस फैसले के बाद से कर्मचारी समय पर ऑफिस आएंगे। लेकिन जो आदत से मजबूर है उनको क्या कहा जाए। हरियाणा के पलवल जेल के जेल सुपरिंटेंडेंट ने तो बायोमेट्रिक अटेंडेंस के लिए ऐसा जुगाड़ निकाला है जिसे जानकर आपके होश उड़ जाएंगे।

पलवल के जेल में तैनात जेल अधीक्षक ने बायोमेट्रिक हाजिरी के लिए नकली अंगूठा ही बनवा लिया। वो अपने एक कर्मचारियों से नकली अंगूठे के जरिए बायोमेट्रिक हाजिरी लगवाकर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाता रहा और खुद प्रॉपर्टी डीलर का काम करता रहा।

जेल अधीक्षक की इस हरकत के बारे में जब आइजी जेल को शिकायत मिली तो उन्होंने जांच के आदेश दे दिए। जांच में पाया गया कि पहले पलवल जेल और फिर मौजूदा समय में में फरीदाबाद जेल में जेल अधीक्षक के तौर पर तैनात अनिल कुमार नकली अंगूठे की मदद से अपनी हाजिरी लगवाता है।

जांच में टीम ने पाया कि जिस वक्त उसकी हाजिरी बायोमिट्रिक मशीन से लगी, उस वक्त उसके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर का लोकेशन उनके घर और किसी दूसरे की थी। बाद में जांच में पता चला कि उसने हाजिरी लगवाने के लिए नकली अंगूठा बनवा रखा था। जांच में दोषी पाए जाने के बाद आरोपी जेल अधीक्षक अजय कुमार के खिलाफ हरियाणा सिविल सर्विस सेवाएं दंड एवं अपील में मामला दर्ज कर लिया गया है।

Facebook Comments