मैरी कॉम बोली – ओलम्पिक में गोल्ड जीतना है लक्ष्य….

भारत की दिग्गज महिला बॉक्सर एमसी मैरी कॉम ने अपने संन्यास की खबरों को सिरे से खारिज कर दिया है। मैरी कॉम ने मंगलवार को कहा कि उनका अब एकमात्र लक्ष्य टोक्यो ओलम्पिक में देश के लिए गोल्ड मेडल जीतना है।

बता दे कि कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने के बाद मैरी कॉम के संन्यास की चर्चा होने लगी थी जिसपर मैरी कॉम ने खुद लगाम लगा दी है।

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रौशन करने वाली भारतीय महिला बॉक्सर मैरी कॉम ने अपनी संन्यास की खबरों से इनकार किया है।

21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में मेडल जीतने वाले भारतीय बॉक्सर्स के लिए भारतीय मुक्केबाजी संघ द्वारा आयोजित किए गए सम्मान समारोह में मैरी कॉम ने कहा कि कौन कहता है मैं संन्यास लेने जा रही हूं। उन्होने कहा कि मैने अभी पने संन्यास के बारे में सोचा तक नहीं है। मैरी कॉम ने कहा कि यह सब अफवाह है और वह अभी संन्यास नहीं लेंगी।

 

इस दौरान मैरी कॉम ने कहा कि 2020 के ओलम्पिक में भाग लेना या नहीं लेना एक अलग बात है लेकिन मैं स्पष्ट कर देना चाहती हूं कि मैं संन्यास नहीं ले रही हूं। उन्होने कहा कि कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने के बाद उनका एक सपना जरुर पूरा हो गया है लेकिन अब उनका अगला लक्ष्य एशियाई खेल और विश्व चैंपियनशिप में मेडल जीतना है। मैरी कॉम ने कहा कि विश्व चैंपियंशिप के बाद होने वाले ओलम्पिक गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीतना उनका आखिरी लक्ष्य हो सकता है।

 

Facebook Comments