जानिये कैसी मेडिटेरेनियन डाइट है जरुरी महिलाओं के लिए……

उम्र बढ़ने के साथ महिलाओं की हड्डियां कमजोर होने लगती है। क्योंकि उनमें कैल्शियम का स्तर लगातार घटता रहता है। इससे ऑस्टियोपोरोसिस नामक बीमारी हो सकती है और हड्डियां पतली होने के कारण फ्रैक्चर होने की संभावनाएं भी बढ़ सकती हैं।

किन महिलाओं पर शोध किया गया…

ब्राजील में ऐसी महिलाओं पर एक शोध किया गया है, जो कि पोस्टमेनोपोज कि स्थिति से गुजर रही है। महिलाओं में मासिक धर्म बंद हो जाने के बाद कि स्थिति को पोस्टमेनोपोज कहा जाता है और एस्ट्रोजन का स्तर घटने लगता है। जिससे महिलाओं के प्रजनन और यौन स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है।

शोध का खुलासा…

शोधकर्ताओं का कहना है कि मेडिटेरेनियन डाइट (आहार) ऑस्टियोपोरोसिस या हड्डियों की कमजोरी की समस्या को सही करने का गैर-चिकित्सक तरीका है। पोस्टमेनोपोज से गुजर रही महिलाओं को अपने डॉक्टर से इसी आहार को अपनाने से संबंधित सलाह लेनी चाहिए। इस शोध में सामान्यतः 55 वर्ष की आयु और 5.5 साल से पोस्टमेनोपोज की स्थिति से गुजर रही 103 महिलाओं पर अध्ययन किया गया। इसके बाद पाया गया कि मेडिटेरेनियन डाइट का सेवन करने वाली महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस या हड्डियों के पतले होने की समस्या को कम किया जा सकता है।

कैसी होती है मेडिटेरेनियन डाइट…

मेडिटेरेनियन डाइट का मतलब मेडिटेरेनियन देशों के आहार से है। इसमें फलों, सब्जियों, अनाज, आलू, ऑलिव ऑइल, बीज, मछली, लो सैचुरेटड फैट, डेयरी उत्पाद और रेड मीट की अधिकता होती है।

Facebook Comments