Breaking : PNB घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी ने भारत आने से किया इनकार

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी ने शनिवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) से भारत आने को इनकार कर दिया है। चौकसी ने कहा कि वह तीन महीने तक भारत नहीं आ सकते हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि अगर इस दौरान ईडी उनका बयान लेना चाहती है, तो उसे एंटीगुआ आएं या फिर उनके स्वस्थ्य होने का इंतजार करें। बता दें कि मेहुल चौकसी को भगोड़ा घोषित करने को लेकर दायर याचिका पर आज मुंबई की अदालत में सुनवाई हुई।

चौकसी वकील का क्या है कहना
अदालत में सुनवाई के दौरान मौजूद मेहुल चौकसी के वकील ने कोर्ट से कहा कि चौकसी यात्रा करने के लिए अभी पूरी तरह से स्वस्थ्य नहीं है। इसलिए अदालत वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए उनके बयान ले सकती है। इसके साथ ही वकील ने कहा कि मेहुल स्वस्थ्य होने के बाद कोर्ट में आकर बयान दर्ज कराएंगे।

गौरतलब है कि ईडी ने मुंबई की अदालत में मेहुल चौकसी को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने को लेकर याचिका दायर की है। चौकसी पंजाब नेशनल बैंक में करीब 13 हजार 400 करोड़ रुपये के घोटाले में अपने भांजे नीरव मोदी के साथ मुख्य आरोपी हैं। वह फिलहाल एंटीगुआ की नागरिकता लेकर रह रहा है और भारतीय जांच एजेंसियां उसके प्रत्यर्पण का प्रयास कर रही हैं। इससे पहले, पिछली सुनवाई के दौरान अदालत ने ईडी को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया था।

प्रार्थना पत्र में क्या कहा चौकसी एवं नीरव मोदी ने
वहीं चौकसी ने एक पत्र में लिखा था कि वह 2012 से दिमाग में खून के थक्के से पीड़ित है और उसे पिछले 20 साल से मधुमेह की शिकायत भी है। इसके अलावा उसे दिल की कई तरह की समस्याओं से भी जूझना पड़ रहा है। इतनी सारी परेशानियों के कारण उसने खुद को 41 घंटे लंबी यात्रा करने लायक नहीं बताया था। बता दें कि सोमवार को चौकसी के भांजे नीरव मोदी ने भी मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट की विशेष अदालत के सामने 10 प्रार्थना पक्ष दाखिल किए थे और उसका भी सारा जोर खुद को भगोड़ा घोषित किए जाने से ईडी को रोकने पर रहा था।

Facebook Comments