माइक्रोमैक्स से भी सस्ते फ़ोन आखिर शाओमी किस तरह बना पाता है?

भारत की नंबर एक स्मार्टफोन कंपनी शाओमी के बारे में तो आप सभी लोग ज़रूर ही जानते होंगे. जी हाँ शाओमी के फ़ोन कम कीमत में इतने ज़्यादा अच्छे होते हैं की अब इसके फ़ोन महज़ कुछ सेकंडों में ही बिक जाते हैं और लोग इसके फ़ोन को खरीदने के लिए ज़्यादा कीमत चुकाने को भी हमेशा ही तैयार रहते हैं.

तो ऐसे में आज हम आपको बताएँगे की आखिर शाओमी के फ़ोन इतने अच्छे होने के साथ ही इतनी कम कीमत में कैसे बिकते हैं जो की खुद भारतीय स्मार्टफोन कंपनी माइक्रोमैक्स से भी सस्ते बिकते हैं.

पहली बात तो ये है की शाओमी कोई भी ज़्यादा बड़े मुनाफे के मकसद से अपने स्मार्टफोन नहीं बेचता है. वहीँ इसके साथ ही वो अपने स्मार्टफोन में कोई भी नकली चीज़ों का इस्तेमाल भी नहीं करता है की कोई कहे की कम कीमत इस लिए है की आप नकली सामान का इस्तेमाल करते हो.

शाओमी वही दूसरी तरफ अपने स्मार्टफोन से कमाई उनकी ऐप्स में एड्स को दिखाकर भी करता है. क्योंकि जब भी आपने शाओमी का कोई फ़ोन इस्तेमाल किया है तो आपने इस बात पर ज़रूर से ध्यान दिया होगा की शाओमी आपको कुछ न कुछ नोटिफिकेशन और ऐप्स में एड्स दिखा देता है. जी हाँ यही वो एड्स होते हैं जिनकी मदद से शाओमी कमाई कर लेता है और अपने ग्राहकों को एक शानदार फ़ोन अच्छी और कम कीमत में देता है.

तो इसी के चलते शाओमी के फ़ोन आपको बाजार में बाकी सभी फ़ोन से काफी ज़्यादा सस्ते मिलते हैं. इसके अलावा अगर कोई और वजह हो तो वो भी आप ज़रूर हमें नीचे कमेंट में बताएं और शाओमी के साथ अपना अनुभव भी ज़रूर बताएं.

Facebook Comments