चांद पर भी मोबाइल फोन नेटवर्क पहुंचाने की तैयारी…

2019 में चांद को भी अपना पहला मोबाइल नेटवर्क मिल जाएगा। इस नेटवर्क के जरिए चांद की सतह से धरती पर हाई-डेफिनिशन स्ट्रीमिंग संभव हो सकेगी।

बता दें कि चांद पर मोबाइल नेटवर्क लाने का काम एक प्राइवेट फंडेड मून मिशन का भाग है। वोडाफोन जर्मनी, नेटवर्क इक्विपमेंट मेकर नोकिया और कार कंपनी आउडी ने मंगलवार को कहा है कि नासा के ऐस्ट्रोनॉट के चांद की सतह पर उतरने के 50 साल बाद वे एक साथ मिलकर इस मिशन पर काम कर रहे हैं।

वोडाफोन ने बताया कि इस काम के लिए उन्होंने नोकिया को टेक्नोलॉजी पार्टनर के तौर पर रखा है ता कि स्पेस-ग्रेड नेटवर्क डिवेलप किया जा सके। इसके लिए एक छोटा सा हार्डवेअर तैयार किया जाएगा जिसका वजन चीनी के एक बैग से भी हल्का होगा। बता दें कि ये कंपनियां बर्लिन की एक कंपनी पीटीसाइंटिस्ट्स के साथ काम कर रही हैं।

वोडाफोन के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट की लॉन्च डेट 2019 में रखी गई है और इसे स्पेसएक्स फाल्कन 9 रॉकेट के जरिए केप कैनरेवल से लॉन्च किया जाएगा। वोडाफोन जर्मनी के चीफ ऐक्जिक्यूटिव हैंज ऐम्जरीटर ने कहा, ‘इस प्रोजेक्ट में मोबाइल नेटवर्क डिवेलपमेंट के लिए मौलिक और नई अप्रोच अपनाई जा रही है।

इस प्रोजेक्ट में शामिल एक अधिकारी ने बताया कि हमने इस प्रोजेक्ट में 5G नेटवर्क की जगह 4G नेटवर्क डिवेलप करने का फैसला किया है।

Facebook Comments