भयानक कीड़ों ने मिलकर एक मॉडल को ‘जीवित खा’ डाला….

जॉर्जिया नर्सिंग होम में भयानक कीड़ों ने मिलकर एक बुजुर्ग मॉडल को ‘जीवित खा’ लिया। जून, 2015 में लाफायेट में शेफर्ड हिल नर्सिंग होम में डेमेटिया पीड़ित रेबेका जेनी 93 की ‘क्रिस्टेड स्टेबीज के कारण सेप्टिसिमीया’ से मृत्यु हो गई।

राज्य स्वास्थ्य अधिकारियों को शरीर पर खरोंच की वजह के बारे में पता था। एक माइक्रोस्कोपिक पतंग जैसा कीड़ा होता है जो त्वचा में रह कर अपने अंडे देता है। ये ऐसे कीड़े होते है जो जीवित रहने के लिए इंसानी शरीर को अपना निवाला बनाते है। हालाकिं बताया ये जा रहा है की नर्सिंग होम ने कभी भी जांच शुरू नहीं की और नाहीं कोई निरीक्षण किया। 2010 में जेनी के परिवार ने उन्हें डिमेंशिया का इलाज़ करवाने के लिए नर्सिंग होम में भर्ती करवाया था।

बता दें की रेबेका के परिवार वालों ने अब प्रुइट हेल्थ पर मुकदमा किया है, जो इस नर्सिंग होम को चलाता है। इनका आरोप है की नर्सिंग होम की गैरज़िम्मेदारी के चलते रेबेका की मौत हुई है। परिवार के वकील माइक प्राइटो ने कहा, ‘मुझे समझ में नहीं आता कि आप कैसे किसी इंसान को अनावश्यक रूप से पीड़ित होने की इजाजत दे सकते हैं।

 

भयानक तस्वीरों में जेनी को स्कैब्स और त्वचा को फिसलने में दिखाया गया है क्योंकि ये सैकड़ों कीड़े त्वचा की नीचली परत में रहते थे। रेबेका की तस्वीरों में आप साफ़ देख सकते है की कैसे कीड़ों ने मिलकर रेबेका के शरीर को नोच नोच कर खा गए है। काला हाथ, अनकटा नाखून और मृत त्वचा में ढंका हुआ था। प्रीतो का दावा है कि नर्सिंग होम के स्टाफ को ‘जेनी के हाथ को छूने से मना किया गया था ।

एक फोरेंसिक डॉ क्रिस क्रिसपर, जिन्हें जेनी की रिपोर्ट देखने के लिए कहा गया था। उन्हें ‘फोरेंसिक रोगविज्ञानी’ के रूप में अपने करियर में
कभी भी सबसे भयानक चीजों में से एक के रूप में वर्णित किया गया है। उनका मानना ​​है कि जेनी, न्यूयॉर्क की ग्लैमरस मॉडल, शिकागो में एक टीवी स्टेशन में काम करने वाली एक्टर को इतना दर्दनाक मौत का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा, ‘मैं इस हत्या को किसी उपेक्षा से बुलावा देने पर गंभीरता से विचार करता हूं।’

रिकॉर्ड्स से पता चलता है कि 2013 और 2015 में नर्सिंग होम में कम से कम दो स्कबीज़ के मामले थे, 35 निवासियों और कर्मचारियों ने खुलासा किया। जॉर्जिया डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक हेल्थ को अधिसूचित किया गया था लेकिन इसका निरीक्षण नहीं किया गया था। उन्होंने बदले में इलाज करने के तरीके पर शेफर्ड हिल को सलाह भेजी थी।

Facebook Comments