नायडू की राहुल से मुलाकात, गैर-बीजेपी मोर्चा बनाने पर सहमत हुए

2019 के चुनाव से पहले गैर-बीजेपी मोर्चे की कोशिशों के बीच टीडीपी नेता और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कांग्रेस अध्यक्ष से मुलाकात की। मुलाकात के बाद पत्रकारों से बात करते हुए नायडू ने कहा कि हम दोनों के बीच लोकतंत्र बचाने को लेकर चर्चा हुई है। नायडू ने कहा बीजेपी को हराने के लिए हम लोग साथ आए हैं, हम बाकी पार्टियों से भी इस मुहिम में हमारा साथ देने की अपील करते हैं। वहीं राहुल ने कहा कि जिस तरह बीजेपी भ्रष्टाचार के साथ संवैधानिक संस्थाओं को खत्म करने में लगी है, ऐसे में बीजेपी को रोकना बेहद जरूरी है। इस लड़ाई में हम लोग जरूर जीतेंगे।

वहीं राहुल गांधी ने कहा कि हमारी मीटिंग काफी अच्छी रही। हमारी मुलाकात का मूल यह है कि हमें लोकतंत्र और देश के भविष्य को बचाना है। इसलिए हम लोग मिलकर साथ काम करेंगे। सभी विपक्षी ताकतों को मिलकर काम करना होगा।

जब पत्रकारों ने राहुल गांधी से पूछा कि विपक्षी दलों को पीएम उम्मीदवार कौन होगा तो राहुल गांधी ने कहा, ‘आपका ध्यान सेंसेशन पर है और हमारा ध्यान नेशन पर है। आप भी कुछ समय के लिए नेशन फर्स्ट सोचें।’ राहुल गांधी ने इस दौरान राफेल को लेकर भी बीजेपी पर हमला बोला। राहुल ने कहा, ‘राफेल को लेकर साफ है कि इसमें करप्शन हुआ है। अगर जांच होती है तो साफ हो जाएगा कि इसमें किसका हाथ था।’ राहुल गांधी ने कहा कि हम लोग भ्रष्टाचार, रोजगार, किसान, राफेल में हुई धंधली और संवैधानिक संस्थाओं को खत्म करने के मुद्दे को लेकर चुनाव में उतरेंगे।

इससे पहले नायडू ने NCP अध्यक्ष शरद पवार और नैशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला के साथ महाबैठक की। तमाम दलों के नेताओं के साथ बैठकों को लेकर नायडू पहले ही साफ कर चुके हैं कि राष्ट्रीय स्तर पर विपक्षी दलों का गठबंधन बनाने में उनकी भूमिका ‘फसलिटेटर’ की है। हालांकि गुरुवार को बैठक के बाद उन्होंने यह भी कहा कि इन मुलाकातों का मकसद देश को बचाना है।

Facebook Comments