पता होने के बाद भी दिया मृत बच्चे को जन्म, कहानी आपको भी रुला देगी

मां बनने का सुख पाने जा रही ब्रिस्बेन की रहने वाली ब्रूक कैंपबेल की जिंदगी में आखिरी वक्त दुखों का ऐसा पहाड़ टूटा कि इससे वो कभी उभर नहीं पाएंगी।

 

 
कैंपबैल ने प्रेगनेंसी के 9 महीने बाद अपने बच्चे को जन्म तो दिया लेकिन वो गर्भ में ही मर चुका था। दुनिया की किसी भी मां के लिए ये पल सबसे मुश्किल घड़ी होती है। हुआ यूं कि ब्रूक को एक दिन रात में तेज दर्द उठा और उनका काफी खून बहने लगा। जब तक घर में एंबुलेंस पहुंची, तब तक ब्रूक का 1 लीटर से ज्यादा खून बह चुका था। ब्रूक अपने बच्चे को लेकर चिंतित थीं। उन्हें अपने पेट में कोई हलचल नहीं महसूस हो रही थी। उन्हें फौरन अस्पताल ले जाया गया जहां उनका अल्ट्रासाउंड हुआ।
अल्ट्रासाउंड में जो निकलकर आया उसने उन्हें तोड़ कर रख दिया। ब्रूक के बच्चे की धड़कनें चली बंद हो गई थीं और डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। ये बात जब ब्रूक के पति को पता चली तो वो इस सदमे को बर्दाश्त नहीं कर पाए और तुरंत जमीन पर गिर गए। इलिऑट को यकीन नहीं हुआ और वो बार-बार कह रहे थे कि ये सच नहीं है। उन्हें संभालने के लिए तीन नर्सों को आना पड़ा।
गर्भ में मृत पड़े बच्चे को बाहर निकालने की बहुत ज्यादा जरूरत थी। ब्रूक को ऑपरेशन थियेटर ले जाया गया जहां उनका ऑपरेशन हुआ। ब्रूक के लिए ये क्षण काफी मुश्किल था क्योंकि वो ऐसे बच्चे को जन्म देने जा रहीं थीं जो मृत था। फिर भी ब्रूक ने हिम्मत दिखाई और ‘डार्सी’ को जन्म दिया। दोनों पति-पत्नी ने अपने बच्चे का नाम डार्सी रखा था। ब्रूक ने डार्सी को अपने हाथों में लिया और रो पड़ीं।
ब्रूक ने डार्सी को आखिरी बार अलविदा कहने से पहले उसके साथ कुछ पल बिताए। उन्होंने पति और बेटे के साथ मिलकर डार्सी के साथ तस्वीरें भी खिंचवाईं। ब्रूक और इलियॉट ने उसे अपनी बाहों में पकड़ा। नोहा ने अपने छोटे भाई के सिर पर किस किया। ब्रूक कहती हैं कि अगर उनके पास नोहा नहीं होता तो उनके लिए जिंदगी जीना मुश्किल हो जाता। वो शुक्र मनाती हैं कि उन्हें अपने पहले बच्चे के साथ ऐसा एक्सपीरियंस नहीं हुआ।ब्रूक कैंपबेल ने अपना दर्दनाक एक्सपीरियंस दुनिया के साथ शेयर करने का फैसला किया है। उन्होंने एक जेनेटिक बीमारी के बाद अपना बच्चो खोया है और अब वो सभी महिलाओं को इसके बारे में जागरुक करना चाहती हैं।
Facebook Comments