मुफ्त में मिलेगा 5 लाख तक इलाज बस आज ही कर लें ये काम

 अगर आपने अबतक अपना आधार कार्ड नहीं बनवाया है तो आपके लिए जरूरी खबर है। बिना आधार नंबर वाले लोगों को आने वाले दिनों कई सरकारी योजनाओं की लाभ से वंचित रहना पड़ सकता है। प्रधानमंत्री मोदी की महत्वाकांक्षी योजना ‘आयुष्मान भारत योजना’ के तहत मेडिकल सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य होगा। इस योजना के तहत केंद्र सरकार नागरिकों को सालाना 5 लाख रुपये तक का कैशलेस इलाज ऑफर करेगी। इसके साथ ही जिन नागरिकों के पास आधार कार्ड नहीं है, उन्हें आधार के आवेदन के लिए 31 मार्च, 2019 तक का समय दिया गया है।

मिल रही जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार अपनी इस हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम के लिए आधार को अनिवार्य बनाने की तैयारी कर रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस मामले में 4 जुलाई को जो नोटिफिकेशन जारी किया है, उसमें सरकार ने कहा कि इस स्कीम में कंसॉलिडेटेड फंड ऑफ इंडिया का इस्तेमाल किया जाएगा, ऐसे में यह स्कीम आधार ऐक्ट, 2016 के अंतर्गत आती है।

इस स्कीम के तहत इलाज कराने के इच्छुक व्यक्ति को तीन में से एक डॉक्यूमेंट देना अनिवार्य होगा। पहला, आधार नंबर। दूसरा, अगर किसी शख्स ने आधार के लिए आवेदन किया है और उसे अभी यह मिला नहीं है तो उसका आधार एनरोलमेंट नंबर और तीसरा, अगर शख्स किसी आधार सेंटर पर जाकर आधार के लिए एनरोलमेंट कराने में असमर्थ है तो उसे आधार वेबसाइट या आधार ऑफिस में जाकर आधार के लिए आवेदन करने का सबूत देना होगा।

इस स्कीम के तहत लाभ उठाने के लिए योग्य लाभार्थियों को आधार नंबर या आधार नंबर के लिए आवेदन किए जाने का प्रूफ सौंपना होगा। यूआईडीएआई की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक अभी तक करीब देश के 122 करोड़ लोगों के पास आधार है। सुप्रीम कोर्ट की एक संवैधानिक पीठ जल्द ही आधार की कानूनी वैधता और उसके इस्तेमाल को लेकर फैसला सुनाने वाली है।

Facebook Comments