मां के साथ नाज़ायज़ संबंधों के शक में बेटे ने अपने ही दोस्त को किया मौत के हवाले….

पुलिस के मुताबिक़ आरोपियों ने रात 8 बजे मार्केट में सरेआम शख्स पर चाकुओं से वार कर किया। मृतक की पहचान राजू के रूप में हुई है। आरोपियों ने राजू को मार्केट में ही दबोच लिया था।

दो लड़कों ने उसे जकड़ा और गुस्साए अमन ने उस पर चाकू से एक के बाद एक 30 वार किए। कुछ ही मिनटों में उन्होंने गले, छाती, पेट, हाथ और शरीर के कई हिस्सों में गहरे घाव किए।

मां के साथ नाज़ायज़ संबंधों के शक में एक बेटे ने अपने ही दोस्त को 30 से ज्यादा बार चाकुओं से वार कर हत्या कर दी। आरोपी अमन ने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर इस ह्त्या को अंजाम दिया। आरोपी 24 इंच का नुकिला धारदार चाकू लेकर आए थे।

इसके बाद तीनों आरोपी बाइक पर भाग निकले। पुलिस के मुताबिक उन्हें घायल की सूचना रात करीब 8:45 बजे मिली। घायल को डीडीयू अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। मृतक की जेब से आधार कार्ड मिला जिससे पुलिस को पता चला कि वह पालम का राजू है।

राजू के परिवार ने हत्या का शक अमन पर जताया। राजू के भाई ने पुलिस को बताया कि राजू अक्सर अमन के घर जाता था। अमन को शक था कि राजू और उसकी मां के बीच अवैध संबंध हैं। हत्या के एक दिन पहले भी राजू अमन के घर गया था और दोनों के बीच काफी झगड़ा हुआ था। इस क्लू के आधार पर पुलिस ने स्पेशल टीम बनाकर अमन की तलाश शुरू की। कई जगहों पर दबिश दी गई। उसके फोन की लोकेशन बार-बार बदल रही थी। अमन कभी अपने मामा के घर आजादपुर तो कभी अपनी बुआ के घर दीनपुर में ठिकाने बदल रहा था। लेकिन जब वह अपने घर आने की फिराक में था तो पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया।
अमन ने पूछताछ में बताया कि वह कई दिनों से राजू को मना कर रहा था, लेकिन बात नहीं मानने पर गुस्से में आकर 17 अप्रैल को अपने दो दोस्तों आशीष  और साहिल के साथ मिलकर राजू की हत्या कर दी। अमन ने बताया कि राजू की वजह से वह काफी बदनाम हो चुका था। उसका सभी मजाक बनाते थे। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने मोटर साइकल, चाकू, आरोपियों के खून से सने कपड़े, आरोपियों के मोबाइल फोन बरामद कर लिए हैं।

 

Facebook Comments