मंगलवार सुबह गर्भवती महिला का सिर काटकर ले गए बदमाश…

मंगलवार सुबह शव मिलने पर क्षेत्रभर में सनसनी फैल गई। पुलिस ने आसपास जंगल में मृतका के सिर की तलाश की, किंतु सफलता नहीं मिल सकी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए जांच शुरू कर दी है। घटना को लेकर आसपास के क्षेत्र में दहशत का माहौल है।खुर्जा रोड स्थित सिकंदराबाद देहात अन्तर्गत आने वाले नगर के मोहल्ला गद्दीबाड़ा निवासी फरीद के खेत के पास पशुचर की भूमि है। मंगलवार की सुबह करीब 12 बजे फरीद खेतों पर कटे गेहूं के बाद भूसा उठवाने के लिए पहुंचा था।

खाली पड़ी जमीन पर पेड़ों के बीच महिला का सिर कटा शव देखकर उसने पुलिस को सूचना दी। महिला का सिरविहीन शव मिलने की सूचना पर सैकड़ों लोग घटनास्थल पर एकत्र हो गए। पुलिस टीम ने भी मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल शुरू कर दी। जांच में पता चला कि मृतका की घटनास्थल पर ही गर्दन काटकर हत्या की गई थी। शरीर के निचले हिस्से पर तेजाब डालकर उसे जलाने का प्रयास किया गया, जबकि सिर को काटकर हत्यारे अपने साथ ले गए। जांच में मृतका के सात-आठ माह की गर्भवती होने का भी पता चला। घटनास्थल के पास ही मृतका की चूड़ियां, तीव्र ज्वलनशील पदार्थ की खाली बोतल पड़ी मिली। मृतका के पैरों में बिछुए थे और उसने सूट-सलवार पहन रखा था।

ज्वलनशील पदार्थ से जलाए गए बुर्कें के भी अवशेष पुलिस ने बरामद किए हैं। पुलिस ने मृतका के सिर की तलाश के लिए आसपास खेत और जंगल में अभियान चलाया, किंतु सफलता नहीं मिल सकी। इसके बाद पुलिस ने अज्ञात में पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।मृतका की सोमवार रात को गर्दन काटकर हत्या कर शव को ज्वलनशील पदार्थ से जलाए जाने का प्रयास किया गया है। मृतका की उम्र करीब 25वर्ष प्रतीत हो रही है। शव की शिनाख्त के लिए कार्रवाई की जा रही है।

कोतवाली पुलिस के उपनिरीक्षकों से वार्ता के बाद हत्या के पीछे ऑनर किलिंग या अवैध संबंधों की आशंका जताई। वहीं दूसरी ओर ग्रामीण महिला के साथ दुष्कर्म की आशंका जता रहे हैं। लेकिन पुलिस अधिकारियों ने मौके पर मिले शव की स्थिति देख इससे इंकार किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही स्थिति साफ होने की बात कही।हत्या से पूर्व मृतका ने किया संघर्षसिकंदराबाद। जहां मौके पर शव मिला, वहां मृतक की चूडियां टूटी मिली। ज्वलनशील पदार्थ के कारण बिखरा खून जल चुका था। जबकि सिर को गर्दन से काटा गया था। मौके की स्थिति को देखकर पता चलता है कि हत्या से पूर्व मृतका से काफी देर तक हत्यारों से संघर्ष किया था।—हत्या में एक नहीं बल्कि तीन चार लोग शामिलसिकंदराबाद। मृतका की हत्या रात में होने की पुष्टि फोरेसिंग टीम के पहुंचने हुई। हत्या में एक नहीं बल्कि तीन चार लोग मौजूद होने की आशंका ग्रामीणों ने जताई।

पेड़ों के बीच मिला शव सीधा लेटा हुआ था। जबकि जहां गर्दन से कटा रक्त पूरी तरह ज्वलनशील पदार्थ से जल चुका था। सीओ दीक्षा सिंह ने हत्या के दौरान एक दो नहीं बल्कि तीन चार लोग होने की आशंका से इंकार नहीं किया है।दो घंटे चली सिर तलाशने को काबिंगसिकंदराबाद।मृतका के कटे सिर को तलाशन के लिए पहले सीओ व बाद में एसपी सिटी के नेतृत्व में आसपास खेतों में काबिंग की गई, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। फिलहाल पुलिस, मृतका की शिनाख्त कराने के लिए आसपास कोतवाली में कुछ दिन पूर्व गुम हुई महिला के संबंध में जानकारी करने में जुटी है। ताकि महिला की शिनाख्त हो सके।मौके पर मिला जला हुआ काला कपड़ा सिकंदराबाद।

सिर कटे मृतका के शरीर पर सलवार व कुर्ता के साथ अंडरगार्मेंट मौजूद थे। जबकि पेट पर काले रंग का कपड़ा समेत अन्य वस्त्र ज्वलनशील पदार्थ से जले थे। पैरों में चप्पल व बिछुए के साथ दांए हाथ और टांग में काले रंग का धागा बंधा हुआ था। जांच के बाद पुलिस ने काले रंग के कपड़े को बुर्का बताया। मृतका के उम्र को लेकर भी लेकर असमंजससिर कटे महिला के शव को देख जहां एसपी सिटी ने उसकी उम्र करीब 25 वर्ष से अधिक होने की बात कही, वहीं कोतवाली पुलिस व सीओ उसकी उम्र का आकलंन 22 से 24 वर्ष के बीच लगा रहे थे।

Facebook Comments