इस अनोखे गाँव में हर एक मुसलमान करता हैं संस्कृत में बातें……

आप क्या ऐसे गावों में गए हैं जो अपनी खासियतों के कारण प्रसिद्ध है। अगर आप कुछ अलग तरह का ट्रेवल एक्सपीरियंस लेना चाहते है तो एक बार इस गांव में जरूर जाएं जहां आपको कुछ हट कर देखनें को मिलेगा।

ऐसा गांव जहां हर कोई संस्कृत में बोलता है आज देश की राष्ट्र भाषा हिंदी भी अपने अस्तित्व के लिए जूझ रही है वही कर्नाटक के शिमोगा शहर से लगभग दस किलोमीटर दूर मत्तूर और होसाहल्ली, तुंग नदी के किनारे बसे इन गांवों में संस्कृत प्राचीन काल से ही बोली जाती है।

 

यहां लगभग 90 प्रतिशत लोग संस्कृत में बात करते हैं। भाषा पर किसी धर्म और समाज का अधिकार नहीं होता तभी तो गांव में रहने वाले मुस्लिम परिवार के लोग भी संस्कृत उतनी ही सहजता से बोलते हैं जैसे दूसरे लोग बोलते हैं।

Facebook Comments