2 महिलाओं की फेसबुक पर हुई दोस्ती,बातचीत से पता चला कि दोनों के पति एक हैं……

 

दरअसल, 2 महिलाओं की फेसबुक पर दोस्ती हुई। कई दिनों तक दोनों के बीच बातचीत हुई फिर पता चला कि दोनों का पति एक ही है। पुलिस पूछताछ में पता चला कि समीर अहमद नाम के इस शख्स ने 2 शादियां नहीं बल्कि 9 शादियां की हैं। 

सोशल मीडिया का बुखार आजकल बच्चों से लेकर बड़े-बूढों पर तक चढ़ा हुआ है। लेकिन सोशल मीडिया की वजह से एक मुस्लिम व्यक्ति के साथ कुछ ऐसा हुआ कि उसे लेने के देने पड़ गए।

राजस्थान के रहना वाला समीर मेट्रीमोनियल वेबसाइट के जरिए महिलाओं को अपने जाल में फंसाता था। 2 साल पहले उसने लखनऊ के ठाकुरगंज में रहने वाली अफशां परवीन से निकाह किया था। समीर इतना शातिर था कि वह सभी पत्नियों को टूर पर जाने का बहाना बनाकर 15-15 दिन का समय देता था। लेकिन कुछ दिन पहले ही समीर की 9वीं पत्नी ने सातवीं पत्नी के सामने फेसबुक पर उसकी पोल खोल दी। जिसके बाद अफशां ने समीर को बहाने से लखनऊ बुलाया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है।

पुलिस के अनुसार, ठाकुरगंज के गढ़ी पीर खां मोहल्ले में रहने वाले अब्दुल पेशे से दर्जी हैं। उनकी बेटी अफशां परवीन उर्दू टीचर हैं। परिवार ने अफशां की शादी के लिए शादी डॉट कॉम पर प्रोफाइल बनाया था। इसी साइट पर उनकी मुलाकात समीर अहमद से हुई। समीर ने खुद को फाइनेंस कंपनी का अकाउंटेंट बताया और सैलरी एक लाख रुपये महीने बताई। इसके बाद बातों का सिलसिला चल निकला और 28 अगस्त 2016 को अफशां की शादी समीर से हो गई। अफशां ने बताया कि समीर अक्सर टूर का बहाना बनाकर 15-15 दिन घर से दूर रहता था।

अफशां ने बताया कि 22 अप्रैल को समीर टूर पर बाहर जाने की बात कहकर निकल गया। इस बीच उसे फेसबुक पर यासमीन नाम की एक युवती ने फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी, जिसे उसने एक्सेप्ट कर लिया। बाद में दोनों की चैटिंग होने लगी। अफशां के मुताबिक, उसके फेसबुक पेज पर उसकी और समीर की फोटो लगी है, जिसके बाद यासमीन ने इस फोटो के बारे में पूछताछ की तो उसने बताया कि वह उसका पति है। इस पर यासमीन ने दावा किया कि समीर उसका पति है, जिस पर दोनों के बीच काफी बहस हुई। इसके बाद दोनों ने अपनी शादी की फोटो शेयर की और फिर सच से पर्दा उठा।

अफशां के मुताबिक, 6 फरवरी को समीर ने यासमीन से 9वीं शादी रचाई। समीर ने यासमीन को भी मेट्रोमोनियल वेबसाइट के सहारे झांसे में फंसाया। यासमीन के मुताबिक, समीर अक्सर कई महिलाओं से फोन पर बात करता था। इसके बाद यासमीन ने उसकी जासूसी शुरू की। इस बीच यासमीन और अफशां को पता चला कि समीर की नेहा नाम की एक और बीवी है जिससे उसे तीन बच्चे हैं। नेहा राजस्थान में रहती है। इसके बाद अफशां ने उसे बीमारी का बहाना बनाकर लखनऊ बुलाया और मंगलवार रात उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

हालांकि, पुलिस पूछताछ में समीर ने 9 शादियों की बात से इनकार किया है। उसका कहना है कि वह नौवीं शादी की बात अफशां से मजाक में कहता था। उसने तीन ही शादियां की हैं। फिलहाल, पुलिस ने उसे दहेज़ उत्पीड़न, धोखाधड़ी और अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

 

Facebook Comments