Live : सेना के निशाने पर 200 आतंकी, झड़प में एक नागरिक की मौत, 10 घायल

दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम जिले में शनिवार को आतंकवादियों के खिलाफ घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन और लश्करे तैयबा के पांच आतंकी ढेर हो गये।
इस बीच सेना के ओर से ब्रिगेडियर सचिन मलिक ने बताया कि अकेले दक्षिण कश्मीर में 200 आतंकी सक्रिय हैं जो बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए भारत में घुसपैठ की फिराक में हैं। इनमें 15 फीसद आतंकी विदेशी हैं। सेना की इन आतंकियों पर कड़ी नजर है और कोशिश यही है कि इन आतंकियों का खात्म कर दिया जाए।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के आधार पर राष्ट्रीय राइफल्स, केंद्रीय रिजव पुलिस बल और पुलिस के विशेष अभियान दस्ते ने कुलगाम जिले के चोवगाम में सुबह संयुक्त अभियान छेड़ा था। सुरक्षा बल के जवान गांव में उस इलाके की ओर बढ़ रहे थे, जहां आतंकवादी छुपे हुए थे। इसी दौरान आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा बलों ने भी गोलियां चलायी । दोनों पक्षों के बीच मुठभेड़ में पांच आतंकवादी मारे गये।

सुरक्षाबलों से प्रदर्शनकारियों की झड़प, एक की मौत, 10 घायल

इस बीच कुलगाम में सुरक्षा बलों के अभियान में बाधा डालने का प्रयास कर रहे प्रदर्शनकारियों को खदेडऩे के लिए सुरक्षाबलों ने हवा में गोलियां चलायी और आंसूगैस के गोले छोड़े। सुरक्षा बलों की कार्रवाई में 10 से अधिक लोग घायल हो गये और उन्हें इलाज के लिए अनंतनाग के जिला अस्पताल ले जाया गया। घायलों में से 4 की आंख में छर्रे लगे हैं। अधिकारी ने बताया कि इस दौरान अनंतनाग जिले के रहने वाले रऊफ अहमद ने संगम के नजदीक रास्ते में दम तोड़ दिया। वहीं रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पुलिस से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुरूप कश्मीर घाटी में सभी ट्रेनों को स्थगित कर दिया है। उन्होंने बताया कि दक्षिण कश्मीर में बडग़ाम-अनंतनाग-काजीगुंड से जम्मू क्षेत्र में बनिहाल तक कोई ट्रेन नहीं चलायी जाएगी। इसी तरह से उत्तर कश्मीर में श्रीनगर-बडग़ाम और बारामूला मार्ग पर कोई ट्रेन नहीं चलेगी। वहीं कुलगाम जिले में इंटरनेट सेवायें बंद कर दी गयी हैं।

पाकिस्तानी गोलीबारी में जवान शहीद

नयी दिल्ली। जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर शनिवार को पाकिस्तानी रेंजर्स की गोलीबारी में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने यह जानकारी दी। पाकिस्तानी सेना ने दिन में नौशेरा सेक्टर के लाम क्षेत्र में संघर्षविराम का उल्लंघन किया था। सूत्रों ने कहा, “नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की तरफ से गोलीबारी में गोरखा राइफल्स का जवान बुरी तरह से घायल हो गया। उसने अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया।

Facebook Comments