आखिरकार नवरात्रि और रामनवमी का कनेक्शन क्या है,जानिये….

अक्सर आपके दिमाग में ये सवाल गूंजता होगा ना कि आखिरकार नवरात्रि और रामनवमी का कनेक्शन क्या है। तो आइए इस गहन रहस्य पर से पर्दा उठाते हैं, दरअसल मां दुर्गा ने चंड, मुंड, शुंभ, निशुंभ, चिक्षुपर, महिषासुर जैसा दानवों का वध किया था तो वहीं दूसरी ओर भगवान राम ने रावण का वध किया था।

राम और मां दुर्गा दोनों ने अन्याय के खिलाफ आवाज उठाई थी। पुराणों के मुताबिक भगवान राम ने भी मां दुर्गा की उपासना से शक्ति प्राप्त की थी।

राम का अर्थ होता है- ‘रमन्ते योगिनो यस्मिन् स राम:’ अर्थात् योगिगण अपने ध्यान में जिन्हें देखते हैं, वे हैं राम। राम का तंत्र में अर्थ है कल्याणकारी अग्नि और प्रकाश।

जबकि मां दुर्गा शक्ति, शांति की मानक हैं इसलिए नवरात्रों में रामचरित-मानस का विधान है और जातक दुर्गा पूजा के साथ-साथ रामकथा का भी पाठ करते हैं।

दुर्गा-सप्तशती संपूर्ण रूप से तंत्र-ग्रंथ है। रामकथा मोक्ष या योग या कैवल्य की ओर ले जाने वाली विद्या है। राम ऋषि संस्कृति के प्रतीक पुरुष हैं। भारतीय संस्कृति ऋषि-संस्कृति तथा कृषि-संस्कृति का सम्मिलित स्वरूप हैं।

दोनों ही नवरात्रों में भगवान राम को भी पूजा जाता है चैत्र नवरात्र में जहां प्रभु श्री राम का जन्मदिवस मनाते हैं वहीं शारदीय नवरात्रि में दशहरा मनाने का प्रावधान है।रावण पर विजय के कारण इसे विजयादशमी भी कहते हैं।

Facebook Comments